Z, X, Y, Z+ सिक्यूरिटी क्या होती है जाने पढ़ें पूरी जानकारी

Z, X, Y, Z+ सिक्यूरिटी क्या होती है

दोस्तों आपने अक्सर TV में सुना होगा अखबार में पढ़ा होगा की किसी को Z+ security मिल गयी या किसी से Z+ सिक्यूरिटी छीनी गयी। और सिर्फ Z+ ही नहीं बल्कि Z security X security, Y security और SPG security के बारे में भी सुना होगा। तो आज हम इस  article में इसी विषय में बात करने वाले होते हैं कि ये Z, X, Y, Z+ सिक्यूरिटी क्या होती है ? और किन लोग को दी जाती हैं ?

Z, X, Y, Z+ सिक्यूरिटी क्या होती है

ये सिक्यूरिटी उन VIP या VVIP लोगो को दी जाती हैं। जिनकी जान को लगातार खतरा बना रहता है और जिनकी जान जाने से देश को नुक्सान पहुँच सकता है या दंगा फसाद हो सकता है। उनमे से कुछ VIP लोग की लिस्ट हम आपको नीचे बता देते जो इस सिक्यूरिटी के हक़दार होते हैं।

  • राष्ट्रपति 
  • उपराष्ट्रपति 
  • प्रधानमंत्री 
  • सुप्रीम कोट या हाई कोट के जज 
  • राज्यपाल 
  • मुख्यमंत्री 
  • मंत्रिमंडल मंत्री
  • भारतीय सशस्त्र बलों के प्रमुख
  • प्रमुख नेता 
  • कोई प्रसिद्ध कलाकार 
  • कोई खिलाडी 
  • देश का कोई प्रसिद्ध व महत्वपूर्ण नागरिक

इस सुरक्षा चक्र को  उनकी सुरक्षा क्षमता के हिसाब से 4 category  में बांटा गया है जैसा की आप नीचे देख सकते हैं।

  1. Z + ( जेड प्लस सिक्यूरिटी  )
  2. Z( जेड सिक्यूरिटी )
  3. X ( एक्स सिक्यूरिटी )
  4. Y ( वाई सिक्यूरिटी )

भारत में गृह मंतालय और इंटेलिजेंस ब्यूरो के ऑफिसर किसी प्रसिद्ध व्यक्ति के रिस्क को देखकर सुनिश्चित करते हैं कि किस VIP को किस security के अंतर्गत रखना है। इन सिक्यूरिटी के लिए जो भी पुलिस और कमांडो चुने जाते हैं। वो भारत की निम्लिखित 4 armed forces के जवान होते हैं जिनको गृह मंत्रालय नियुक्त करता है।

  • SPG (Special Protection Group)
  • NSG (National Security Guard)
  • ITBP (Indo-tibetan Border Police)
  • CRPF (Centra Reserve Police Force)

Z+ Security –


यह 36 लोगो का सिक्यूरिटी ग्रुप होता है जिसमे 10 NSG commando और बाकी Police personnel होती है। commando  के पास MP 5 sub machine gun होती है।  जो देखते ही देखते दुशमन को चित्त कर सकती है इनके पास  जो भी communication gadgets होते हैं वे उनमे GPS लगा होता है ताकि किस भी दुविधा में आसानी से communication हो पाए। इसमें नियुक्त किया जाने वाला हर commando Martial art और Combat Fighting (hand to hand  fighting) में एक्सपर्ट होता है ताकि वे बिना हथियार के भी दुशमन का सामना कर सके। भारत में अभी 17 लोगो को Z+ सिक्यूरिटी दी गयी है।

यह भी पढ़े – दुनिया के 10 सबसे शक्तिशाली सैन्य बल

Z Securitiy –


Z security 22 लोगो का एक Security Group होता है। जिसमें 4 या 5 commando होते हैं तथा बाकी ITBP, NSG, तथा CRPF  की Police personnel होती है इनको एक escort car भी प्रोवाइड की जाती है।

Y Security –


इस Security में 11 लोगो का सुरक्षा चक्र होता है। जिसमें 1 या 2 commando, और दो Security officers भी होते हैं और बाकी  ITBP, NSG,तथा CRPF की police personnel होती है।

X Security –


X security में सिर्फ 1 armed forces का जवान और एक personnel security officers होता है। और कोई कमांडो नहीं होता है जो हमारा मंत्रिमंडल है उनको तो यह सिक्यूरिटी अपना ऑफिस सँभालते ही तुरंत मिल जाती है। मगर जो सुप्रसिद्ध नेता, कोई सेलेब्रिटी, सपोर्ट पर्सन या VVIP person के लिए सिक्यूरिटी एक committee के द्वारा निर्धारित होता है। जिसमें intelligence bureau के Official, home secretary, home minister होते  हैं।

SPG (Special Protection Group)-


जैसे की आपको नाम से ही पता चल गया होगा की SPG की फुल फॉर्म होती है Special Protection Group. इस ग्रुप का गठन 1988 में भूतपूर्व प्रधान मंत्री इंदिरा गाँधी की हत्या के बाद संसद में स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप एक्ट के तहत  किया गया था। जो सिर्फ प्रधान मंत्री और उनके परिवार को सुरक्षा प्रदान करता है ।

यह भी पढ़े – दुनिया के 10 सबसे क्रूर शशक

आशा है,  कि आपको Z, X, Y, Z+ सिक्यूरिटी क्या होती है ? इन सब के बारे में पता चल गया होगा अगर आपको अच्छा लगा या कोई   शिकायत सुझाव हो तो कमेंट में जरुर लिखे ।

Share post, share knowledge

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *