वार्महोल क्या है ? Wormhole in hindi

वार्महोल, Wormhole

हमेशा की तरह आज भी एक रोमच भरे विषय में के साथ hindish website आपका  स्वागत करती है जिसमे हम बात करेंगे अंतरिक्ष से जुड़े विषय वार्महोल ( wormhole ) के बारे में।

जब तक विज्ञान  का जन्म नहीं हुआ था तब तक हम यही सोचते थे  कि आकाश में दिखने वाले चमकीले टिमटिमाते तारे रेत के दानो के बराबर छोटे हैं। ओर यहाँ तक की जब कोई छोटा सा खगोलीय पिंड हमारी धरती के Environment में आकार घर्षण के कारण जलकर गिरता है तो लोग यह कहते हैं कि वह एक टूटता हुआ तारा है उस से कोई Wish मांग लो। मगर Science की मदद से हम यह जान पाए हैं की तारे तो इतने विशाल होते हैं जिसमे हमारी पृथ्वी जैसे हजारो लाखो ग्रह समां सकते हैं। और हर तारे के आस पास ग्रह, उपग्रह, खगोलीय पिंड आदि उस तारे की परिक्रमा करते हैं जिसको हम तारामंडल कहते हैं। जैसे  हमारा सूर्य भी एक तारा ही है जिसके चारो और हमारे 8 ग्रह उनके उपग्रह और खगोलीय पिंड  परिक्रमा कर रहे हैं।

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि ब्रह्माण्ड में जन्मी  हर एक चीज का अंत निश्चित है और तारो का अंत भी निश्चित है। पर किसी भी तारे का अंत इतनी आसानी से नहीं होता है करोडो साल लग जाते हैं। एक तारे का अंत होने में और फिर वह बनता है। एक दैत्य जिसको हम  black hole के नाम से जानते हैं। wormhole को जानने से पहले आपको black hole और white hole के बारे में जानना आवश्यक है तभी आप wormhole को आसानी से समझ सकते हैं दोनों Topic पर मैंने article लिखे हुए हैं। आप उनको नीचे दिए गए link पर क्लिक कर के पढ़ सकते हैं।

अब finally जाने हैं हम wormhole के बारे में कि आखिर ये wormhole क्या है ?

वार्महोल | Wormhole –


दोस्तों साल 1915 में महान वैज्ञानिक अल्बर्ट आइंस्टीन ने general theory of relativity दी थी जो एकदम सही थी। और इसके दम पर ही हमने आज  Space, Time, Light,Planet, Stars, आदि के बारे में बहुत कुछ जाना। और सन 1935 में Einstein और Nathan rosen ने मिलकर general theory of relativity से यह mathematically साबित किया कि  इस ब्रह्माण्ड में उपस्थित किन्ही दो points के बीच में shortcut रास्ता संभव है जो space और time दोनों कम कर देता है । और जहां तक पहुँचने में हमको लाखो Light years लगते हैं वहां हम बहुत ही कम समय में यात्रा कर सकते हैं। उन्होंने इसको Theoretically Proove भी किया था।

असान शब्दों में कहूँ तो अंतरिक्ष में दो points के बीच में एक Tunnel (सुरंग) होती है जो Space और Time दोनों को एक साथ जोड़ देती है  जिसके अंदर जाकर हम अंतरिक्ष के एक छोर से दुसरे छोर तक कम समय में यात्रा कर सकते हैं। क्योंकि इस थ्योरी को Einstein और Nathan rosen  ने साबित किया था।  इसलिए हम इसको Einstein Rosen Bridge या Wormhole कहते हैं।

यह भी पढ़ें :- ब्रह्माण्ड के कुछ अनसुलझे रहस्य 

मैं जानता हूँ कि अभी आप पूरी तरह से wormhole को नहीं समझे क्योंकि मैंने इसका कोई Example नहीं दिया। तो आइये इसको और भी अच्छे से समझते हैं एक example के जरिये।

Wormhole Example –


नीचे दी गयी Image में बाई तरफ आप देख सकते हैं की एक सीधा कागज है। जिस पर दो points हैं A और B यदि हमको इन points के बीच का सबसे sortcut रास्ता चुनने को कहा जाए तो शायद हम Point A से Point B तक एक सीधी Line खींच देंगे और कहेंगे की यह सबसे shortcut रास्ता है। हैंना मगर यह गलत है।

 

वार्महोल, Wormhole in hindi

तो यहाँ पर आप देख सकते कि यदि उस Paper जिसको हमने ब्रह्माण्ड माना था। उसको मोड़ा जाये तो उन दो बिन्दुओ के बीच की दूरी और भी कम जो जाएगी और फिर एक बिंदु से दुसरे बिंदु तक सफ़र करना आसान हो जायेगा ।

आप इस नीचे दी गयी Image में भी देख सकते हैं। की यदि इसको plain किया जाए तो दोनों Points के बीच की दूरी कितनी लम्बी हो जाएगी।

 

वार्महोल, Wormhole

तो दोस्तों आशा करता हूँ कि इन images को देखकर आपको समझ आ गया होगा की Wormholes क्या होते हैं ।

video के जरिये समझने के लिए आप नीचे दिए गए video को देख सकते हैं। जिसमें आपको और भी अधिक जानकारी मिल जाएगी ।

Share post, share knowledge

3 thoughts on “वार्महोल क्या है ? Wormhole in hindi”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *