प्रधान मंत्री आवास योजना क्या है

pradhan mantri awas yojna

प्रधान मंत्री आवास योजना

भारत में आज भी बहुत लोग ऐसे हैं जो किराये के मकान में रह रहे हैं या जिनके पास अपना घर नहीं है ऐसे में सबका सपना होता है की उनका भी अपना घर हो जहां वो चैन से दो वक़्त की रोटी खा सकें और चैन की नींद सो सकें,इसी समस्या को ध्यान में रखते हुए माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के द्वारा 25 जून 2015 को इस प्रधान मंत्री आवास योजना को प्रारम्भ किया गया था जिसका जिसका उद्देश्य वर्ष 2022 तक आज़ादी के 75 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में  भारत के 2 करोड़ से ज्यादा लोगो को घर मुहैया कराना है जिनके पास घर नहीं है।

योजना के तहत जरूरत मंद लोगो को निम्न ४ घटको  के माध्यम से जरूरत मंद लोगो को आवास दिया जायेगा 

  • भूमि का संसाधन के रूप में उपयोग करते हुए निजी प्रवर्तकों की भागीदारी से स्लमवासियों का स्लम पुनर्वास;
  • ऋण से जुड़ी ब्याज सब्सिडी के माध्यम से कमजोर वर्ग के लिए किफायती आवास को प्रोत्साहन;
  • सार्वजनिक तथा निजी क्षेत्रों के साथ भागीदारी में किफायती आवास |
  • लाभार्थी आधारित व्यक्तिगत आवास निर्माण के लिए सब्सिडी।

 

प्रधान मंत्री आवास योजना को निम्नलिखित ३ चरणों में पूरा किया जायेगा-

  • प्रथम चरण -यह चरण अप्रैल 2015 से मार्च 2017 तक चलेगा जिसमे 100 शहरो को लाभान्वित किया जायेगा।
  • द्वितीय चरण-द्वितीय चरण अप्रैल 2017 से लेकर मार्च 2019 तक चलेगा। जिसमें अन्य २०० शहरो को घर मुहैया करवाया जायेगा।
  • तृतीय चरण -योजना का यह आखिरी चरण  अप्रैल 2019 से लेकर मार्च 2022 तक चलेगा ।बाकि बचे हुए शहरो को इस चरण में पूरा किया जायेगा।

जानिए सुकन्या योजना के बारे में 

भारत सरकार की डिजिटल लाकर स्कीम क्या है 

किसके लिए है –

यह योजना उन लोगो लिए है जिनका भारत के किसी भी कोने में अभी तक कोई पक्का मकान नहीं है,इस योजना का लाभ आपको आपकी आय के अनुसार अलग अलग नियम और शर्तो को ध्यान में रखकर मिलेगा नियम और शर्ते क्या है ये भी हम आपको बताते हैं।योजना के आधार पर लाभार्थियो को दो वर्गो में रखा गया है एक EWS और LIG .

EWS- EWS श्रेणी में उन लोगो को रखा गया है जिनकी सालाना आय 3 लाख रुपये से कम है ।

LIG-LIG श्रेणी में उन लोगो को रखा गया है जिनकी सालाना आय 3 लाख से 6 लाख के बीच हो।  

केंद्र सरकार द्वारा EWG और LIG लोग के लाभार्थियो को प्रत्येक आवास ऋण पर 6.5 %ब्याज क्रेडिट लिंक सब्सिडी दी जाएगी।

आपको किन चीजो की जरूरत पड़ेगी-

  • आवेदन परिवार की  मुखिया महिला के नाम से करना होगा।
  • परिवार की महिला मुखिया की Passport size रंगीन फोटो।
  • पहचान हेतु  Aadhar card की Photocopy।
  • bank account का विवरण प्रथम पृष्ट की छायाप्रति।
  • जाती प्रमाण पत्र, B.P.L. कार्ड की Photocopy /विकलांग प्रमाण पत्र (विकलांगो के लिए )।
  • 31-8-2015 से  पहले शहर का प्रमाण।
  • किसी अधिकारी से प्रमाणित बैंक आय प्रमाण पत्र।
  •  10 रुपये के Stamp paper पर स्वघोषति प्रमाणित पत्र की पुरे भारतवर्ष में मेरे पास कोई पक्का मकान  नहीं है  किसी भी अन्य शाश्कीय योजना से मकान प्राप्त नहीं हुआ है।
  • यदि आपकी कही कोई जमीन है तो उसके कागजात की छायाप्रति खसरा,खतौनी,किसानबही जो भी आपके पास उपलब्ध हो।

ये दस्तावेज देकर आप भी अप्लाई कर सकते हैं और योजना का लाभ ले सकते हैं ।

कैसे करें आवेदन-

इस योजना के लिए आप दो तरीके से ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं-

  1. की जन सुविधा केंद्र (common service center)  जाकर   आपके इलाके में जन सुविधा केंद्र देखे ।
  2. प्रधान मंत्री आवास योजना के लिए आधिकारिक वेबसाइट pmaymis.gov.in के माध्यम से ।

 

यदि आप सोचते हैं की यह बात आपके केस में फिट बैठती है तो आप अपने परिवार के किसी मैच्योर सदस्य के नाम से आवेदन कर सकते हैं। आवेदन करने के लिए आप इस लिंक को ओपन करके आवेदन पत्र डाउनलोड कर सकते हैं। .

 

प्रधान मंत्री आवास योजना का फॉर्म के लिए क्लिक करे 

 

Share post, share knowledge

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *