पुनर्जन्म का रहस्य क्या है ? आइये जानते हैं | punarjanm ka rahasya

rebirth

रहस्य की दुनिया से जुडी और भी बातो के बारे में मैं आपको पहले भी बता चुका हूँ  आप उनको रहस्यमय दुनिया  पर क्लिक करके पढ़ सकते हैं। लेकिन आज का जो टॉपिक है वह है पुनर्जन्म का रहस्य ।जी हाँ आज मैं आपको यह बताऊंगा की पुनर्जन्म होता भी है या नहीं, अगर पुनर्जन्म होता है तो क्यों और अगर यह भ्रम है तो क्यों तो चलिए शुरू करते हैं और जानते हैं।

rebirth, पुनर्जन्म का रहस्य क्या है
पुनर्जन्म

पुनर्जन्म का रहस्य

सबसे पहले तो मैं आपको एक बात बता देता हूँ की हमारी ज़िन्दगी में जो कुछ भी होता है हम उसके पहलू मानते हैं पहला science और दूसरा अध्यात्म हमको यही लगता है की यार ये तो technology ही है जो हम एक दुसरे से फ़ोन पर बात कर रहे हैं। गाडी में बैठ कर दूर दूर का सफ़र कर रहे हैं या airoplane में बैठकर एक देश से दुसरे देश आसानी से जा रहे हैं और सच में है भी दूसरी तरफ है हमारा अध्यात्म यानी हम पैदा कैसे होते हैं हमारे शरीर के अन्दर आत्मा कहा से आती है और कहाँ जाती है इस का पता अभी तक वज्ञानिक भी नहीं लगा पाए हैं। क्योंकि यह science से नहीं अध्यात्म से जुडी चीजे हैं मेरी तरह आप लोग भी science पर यकीन करते होंगे और in fact हो भी क्यों न आप अभी पढ़ रहे हैं इन्टरनेट के जरिये ये भी science की ही एक देन है। तो science पर भी हमें भरोसा करना होगा, लेकिन ये हो रहस्यम (mysterious) अध्यात्मिक बाते हैं ये सारी science से परे हैं।

शंगरी ला घाटी का रहस्य | shangri la velly mystery in hindi

भारत की 10 रहस्यम जगहे 

पुरार्जन्म का मतलब है की एक आत्मा का किस एक शरीर से निकलकर दुसरे शरीर में जाना पुनर्जन्म लगभग सभी धर्मो में माना जाता है जो लोग law of karma पर यकीन करते हैं उन लोगों का यह मानना है कि अगर आप इस जन्म में अच्छे काम करते हैं तो आपको अगला जन्म भी इंसान के रूप में ही मिलता है यह भी होता है की अगले जन्म में आप किसी जानवर के रूप में जन्म लें Animal reincarnation theory यह कहती है की जब कोई जीव  मरता है तो उसके शरीर की आत्मा और energy निकल जाती है। और यह पुराना शरीर छोड़कर किसी नए शरीर में जन्म लेती है ।

इस theory के according अगर किसी इंसान ने एक बार किसी जानवर के रूप में जन्म ले लिया तो फिर उस इंसान को अपनी पिछली वाली ज़िन्दगी के बारे मन कुछ भी याद नहीं  रहेगा भारत और भारत के कई पडोशी देशो में इसे ज्यादातर लोग मानते हैं बुद्धिस्ट धर्म यह कहता है कि “वे आत्माएं जो पिछले जन्म में बुरे कर्म करती है उसको उसके बुरे कर्मो के चलते किसी जानवर के रूप में जन्म लेना पड़ता है। और जैसा की हम जानते ही हैं की जानवर की बुद्धि इंसान से कम होती है रो जिस तरह से इंसान अपने दिमाग को कई कामों में लगा सकता है। उस तरह जानवर नहीं लगा सकता इसलिए बुरे कर्म करने वालो को यह सजा मिलती है”।

Deja vu  और पुनर्जन्म एक दुसरे से काफी connected हैं। अब आप सोच रहे होंगे ये deja vu क्या होता है चलिए आपको बता देते हैं। दरअसल कभी न कभी आपके साथ भी कुछ ऐसा हुआ होगा जिसमे आपको लगा होगा की यह तो आपके साथ पहले भी कभी हो चुका है या कसी नयी चीज को देखने पर आपको अचानक लगने लगता है की यह तो आप पहले भी कही देख चुके हैं इसी feelings को कहते हैं deja vu।  इसी thought को कहते हैं deja vu इस deja vu को अज तक science भी पूरी तरह से नहीं समझ पाया है की हमारे mind में अक्सर ऐसा क्यों आ जाता है पर कुछ लोगो का मानना है की यह पिछले जन्म की यादो के कारण होता है मतलब आपके पिछले जन्म की यादे जब इस जन्म में दिखती हैं तब आपको वैसा फील होता है ।

भारत की रहस्यमयी घटनाये

मोनालिसा पेंटिंग का रहस्य

ऐसी छोटी मोती बाते तो अक्सर हमारे साथ होती रहती हैं जो normal है पर इस दुनिया में कुछ ऐसे भी लोग हैं जो यह मानते हैं की उनको अपना पिछला जन्म याद है rassia की एक महिला tatti valo यह दावा करती हैं की पुनर्जन्म सच में होता है और वो खुद को इस बात का proof भी मानती हैं। वे कहती हैं की उनको बचपन से ही वे 120 भाषाए पता थी जो उन्होंने अपने पिछले जन्म में सीखा था उनको English,spanish,persian,Egyptian, korian,Mongolian, etc कई प्रकार की भाषाएँ आती हैं। और हम सिर्फ इनकी ही बात नहीं  कर रहे दुनिया में कई ऐसे बड़े बड़े celebrities हैं जो इस बात को मानते हैं कि उनका अपना पिछला जन्म पूरी तरह से याद है।

जाने ताजमहल के कुछ अजीबो गरीब तथ्यों के बारे में

स्वर्ग और नरक 

अक्सर हम इंसान इस बात को मानते हैं की मरने के बाद या तो इंसान स्वर्ग जाता है या तो नरक , इस theory मे यह कहा जाता है की अगला जन्म लेने से पहले हमें स्वर्ग या नरक में जाना पड़ता है। मान्यता यह है की हम सभी के अन्दर spirit है यानि आत्मा है मरने के बाद आत्मा के पास दो ही रस्ते होते हैं या तो स्वर्ग और या तो नरक ओर उस आत्मा को कहाँ जाना है वह उस इंसान के कर्मो पर निर्धारित करता है। ऐसा हमारे बुजुर्ग हमेशा कहते हैं कि यदि हम भगवान पर विश्वाश करेंगे और अछे कर्म करेंगे तो जरूर स्वर्ग मिलेगा और अगर बुरे कर्म करेंगे तो नरक मिलेगा ।

विज्ञान की नज़र में मृत्यु

यदि हम मृत्यु को विज्ञानं की नजरो से देखे तो एक बड़ी ही interesting बात सामने आती है ये theory अगले जन्म की theory को मार देती है यह theory यह कहती है कि मृत्यु सिर्फ एक illusion है। अमेरिकी प्रोफ्फेसर रोबर्ट लेंज़ा का यह मानना है की मृत्यु सिर्फ हमारे सचेत experience के अन्दर आता है। इसे proof करेने के लिए ये researchers Quantum physics और biocentrism को आधार मानते हैं ये दोनों यह एक्सप्लेन करते हैं की यह ब्रह्माण्ड तभी एक्सिस्ट करती है जब आप एक्सिस्ट करते हैं उनका कहना है  कि space और time सिर्फ हमारे दिमाग ने बनाया है acutal में कुछ एक्सिस्ट नहीं करा अगर यह theory सही है  तो यह दुनिया तब ख़त्म हो जाती है जब हमारी आत्मा इस शरीर को छोड़कर चली जाती है क्योंकि मृत्यु के बाद इंसानी दिमाग मर जाता है ।

Share post, share knowledge

6 thoughts on “पुनर्जन्म का रहस्य क्या है ? आइये जानते हैं | punarjanm ka rahasya”

  1. mujhe maaf karna kyu ki death ek hi sachai hai baki sab juth hai – bhagvat geeta.
    mai uperwale se duva karunga ki apki beti aap ko miljaye-ganesh

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *