NSE और BSE क्या हैं जाने सरल हिंदी में

NSE और BSE क्या हैं जाने सरल हिंदी में

आज के इस आर्टिकल में हम भारत के दो मेजर स्टॉक एक्सचेंज के बारे में बात करने वाले हैं जो की हैं NSE (National Stock Exchange) BSE (Bombay Stock Exchange ) । तो सबसे पहले हम जानते हैं की एक एक्सचेंज होता क्या है।

NSE और BSE क्या हैं जाने सरल हिंदी में

एक्सचेंज क्या होता है | What is Exchange

Stock exchange एक regulated और organized जगह है जहाँ पर brokers और traders Stocks bonds और दूसरे और अन्य securities को खरीद और बेच सकते हैं। आपको जानकर हैरानी होगी कि साल 2016 में world बैंक के डाटा के अनुसार सारे स्टॉक एक्सचेंजज़ को मिलाकर इनमे $77.5 Trillion dollars के स्टॉक्स Stock Exchange पर ट्रेड किये गए। और यह वैल्यू दुनिया  सारे goods और services (2016) से भी ज्यादा थी। तो यह वैल्यू दर्शाती है कि किसी भी देश के लिए Stock Exchanges की क्या importance हो सकती है। और हमारे देश के जो 2 सबसे बड़े स्टॉक एक्सचैंजेज हैं वो हैं NSE (नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ) और BSE (बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ) किसी भी स्टॉक एक्सचेंज में कम से कम record keeping के लिए एक सेंट्रल लोकेशन होता है, लेकिन ट्रेड  किसी भी फिजिकल लोकेशन से जुड़ा नहीं होता है।

जो मॉडर्न मार्केट्स हैं वो electronic network का इस्तेमाल करते हैं कम transaction cost पर ज्यादा स्पीड हासिल होती है। यानी की आप अपने घर से ही इन स्टॉक एक्सचैंजेस पर ट्रेड कर सकते हैं।  आइये अब जानते हैं की National Stock Exchange और Bombay Stock Exchange में क्या फर्क है।

National Stock Exchange और Bombay Stock Exchange

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (National Stock Exchange)

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (Bombay Stock Exchange)

NSE 1992 में स्थापित हुआ था।  BSE 1875 में स्थापित हुआ था।
यह Daily Turn Over और ट्रेड ट्रांज़ैक्शन के मामले में BSE से बड़ा है।  यह एशिया का सबसे पुराना स्टॉक एक्सचेंज है।
www.nseindia.com पर जाकर आप सारी जानकारी हासिल कर सकते हैं। www.bseindia.com पर जाकर आप BSE से सम्बंधित अन्य जानकारी हासिल कर सकते हैं।
मार्किट कैपिटलाइजेशन के मामले में दुनिया का 11 वे नंबर पर है मार्किट कैपिटलाइजेशन के मामले में दुनिया का 10 वे नंबर पर है
 1600 से भी ज्यादा कम्पनिया लिस्टेड हैं  इस एक्सचेंज में 6000 कंपनियां लिस्टेड हैं
भारत का पहला Stock Exchange जिसने Fully Automated System उपलब्ध करवाया।  BSE का कहना है कि यह दुनिया का सबसे fastest Stock Exchange है, एक ट्रेड को पूरा करने में यह मात्र 6 Micro सैकंड्स लेता है।
NSE से पहले ट्रेडिंग मेम्बरशिप सिर्फ कुछ ब्रोकर ग्रुप तक ही सीमित थी।
लेकिन NSE ने टेक्नोलॉजी का स्तेमाल करके आटोमेटिक सिस्टम के द्वारा आम नागरिको के लिए भी इन्वेस्टमेंट के दरवाजे खोल दिए,
और ट्रांस्परेन्सी भी रखी जिस से फोरेनर इन्वेस्टर भी आसानी से इन्वेस्ट कर सकते थे।
और इसी वजह से आज NSE भारत में सबसे लीडिंग स्टॉक एक्सचेंज बन गया।
आटोमेटिक सिस्टम के बात BSE भी इलेक्ट्रॉनिक ट्रेडिंग सिस्टम पर स्विच हुआ।
यह औटोमैटिक सिस्टम CMC ltd ने डेवेलप किया था। और इस सिस्टम को BOLT (BSE Online Trading) के नाम से भी जान जाता है।
इसमें BSE से अधिक ट्रेड होते हैं इसलिए लिक्विडिटी बनी रहती है। यह लिक्विडिटी के मामले में NSE से पीछे है इसलिए इंट्राडे में इसमें कम ट्रेडर ट्रेड करते हैं।
आपको बता दे की 5th मई 2017 को HDFC में 23 लाख शेयर ट्रेड हुआ। जबकि उसी दिन 5th may 2017 को HDFC में सिर्फ १.32 लाख शेयर ट्रेड हुआ।
इसी लिए intraday trader NSE को चुनते हैं। हाँ BSE लॉन्ग टर्म इन्वेस्टमेंट के लिए सही है।
NSE एक Main Indiex है और इसके अंतर्गत और भी indices आते है जैसे –
Nifty 100, Nifty 200, Nifty midcap 50, Nifty small 100, इत्यादि।
BSE एक Main Indices है और इसके अंतर्गत और भी indices आते है जैसे – S&P, BSE Largeca , midcap, small cap इत्यादि।
इसके अलावा इसमें sectorial indices भी हैं जैसे – Nifty Bank, Nifty IT, Nifty Auto, Nifty media, Metal इत्यादि। इसमें भी sectorial indices हैं जैसे – S&P,  Bankex, IT, PSU, Metal, Etc .

अब आपके मन में यह विचार आ रहा होगा की ये Nifty और Sensex क्या होता है। तो चिंता मत कीजिये हम उसके बारे  में  भी आपको सरल भाषा में बताएँगे।

Sensex क्या है ?

Sensex बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का बेंचमार्क index है, जो भी companies BSE में लिस्टेड होती हैं उनमे से Top 30 कंपनियों के शेयर डायरेक्शन को indicate करता है। कि वे कैसा Perform कर रही हैं।

Nifty क्या है ?

Nifty नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का बेंचमार्क इंडेक्स है जो NSE (नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ) में लिस्टेड top 50 कंपनियों के शेयर की डायरेक्शन को indicate करता है। कि वे कैसा Perform कर रही हैं।


तो आशा करता हूँ दोस्तों आपको NSE और BSE क्या हैं ये समझ में आ गया होगा अगर कोई सवाल  है आपका तो आप नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं।

यह भी पढ़ें –

Swing Trading क्या है जानिए विस्तार से ? 

Share Market में ट्रेडिंग कितने प्रकार की Trading होती है

Future और Option क्या होता है। 

शेयर बाजार क्या है ?

SIP क्या है हिंदी में जाने ? 

10 बिज़नस आईडिया, जीरो इन्वेस्टमेंट से शुरू कर सकते हैं

10 सबसे अच्छे online business idea हिंदी में

 

Share post, share knowledge

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *