Larry Page Biography in hindi

larry-page biography in hindi

आज हम  बात करने वाले हैं google कम्पनी के Co founder larry page की जिन्होंने sergey brin के साथ मिलकर दुनिया की सबसे सफल  कंपनी और सबसे popular search Engine Google बनाया। और यह बात से तो आप भली भाँती परिचित हैं की गूगल ने आज हमारी ज़िन्दगी कितनी आसान कर दी है। Google आज की तारिख में सबसे बड़ी सफल कंपनियों में से एक है। और इसी वजह से Larry page और Sergey brin भी सबसे सफल व्यवसाई में गिने जाते हैं। तो चलिए  जानते हैं google की स्थापना करने वाले Larry page के बारे में।

Larry Page | लैरी पेज –


Larry Page , लैरी पेज बायोग्राफी
Larry Page
  • जन्म- 26 मार्च 1973
  • शिक्षा – East Lansing High School, Montessori radmoor school, stanford university
  • व्यवसाय – कंप्यूटर साइंस, सॉफ्टवेर इंजिनियर, इन्टरनेट उद्यमी
  • पत्नी – लुसिंडा साउथवर्थ
  • संतान – 2
  • पिता – कार्ल विक्टर पेज
  • माँ – ग्लोरिया पेज
  • घर – कैलिफ़ोर्निया
  • कुल संपत्ति- $5,330 करोड़ डॉलर

Larry Page का जन्म 26 मार्च 1973 को अमेरिका के मिशिगन में हुआ था उनके पिता का नाम Carl Victor Page और माँ का नाम Gloria Page है। और ये दोनों University of Michigan में computer science के professor थे  Larry कहते हैं कि आम तौर पर उनके घर में computer की मैगजीन बिखरी हुई रहती थी। और इसी environment  में पले बढे होने की वजह से लैरी पेज को बचपन से ही  computer में काफी रूचि हो गई।

Larry ने बहुत छोटी उम्र से ही चीजो को खोलना शुरू कर दिया था। क्योंकि वे जानना चाहते तह कि कोई भी चीज आखिर काम कैसे करती है । उन्होंने अपने  एक Interview में बताया की मैंने बहुत ही कम उम्र से यह महसूस कर लिया था की मैं चीजो का अविष्कार करना चाहता हूँ। और जब मैं 12 साल का था तभी मैंने सोच लिया था कि मुझे के business Man बनना है। लैरी पेज की शुरवाती पढाई Montessori radmoor school से हुई उसके बाद उन्होंने 1991 में East Lansing High School से ग्रेजुएशन पूरा किया। और उसके यूनिवर्सिटी ऑफ़ मिशिगन से उन्होंने कंप्यूटर में इंजीनियरिंग की। और उसके बाद Post Graduation करने के लिए उन्होंने stanford university में एडमिशन लिया। और वही से उन्होंने Computer science में मास्टर की डिग्री प्राप्त की। लैरी पेज जब University of michigan में पढ़ रहे थे तब उन्होंने एक लीगो ब्रिक्स से एक इंकजेट प्रिंटर बना दिया था।

Google की शुरवात –


Larry page जब stanford university से Phd कर रहे थे तो वहां उनकी मुलाकात हुई गूगल के Co Founder Sergey Brin से, और यहाँ दोनों ने phd में अपना विषय World Wide Web को चुना था। उस वक़्त इन्टरनेट के नाम पर सिर्फ दो ही search engine मौजूद थे। एक yahoo और दूसरा Ecxite. लेकिन इन दोनों पर किसी जानकारी को ढूँढने में बहुत ज्यादा वक़्त लगता था। और फिर भी वह जानकरी सही से नहीं मिल पाती थी जो हमें चाहिए होती  थी। और धीरे-धीरे और भी सर्च इंजन मार्किट में आने लग गए लेकिन सभी एक जैसे ही थे जिनमे सबसे टॉप पर चल रहा था yahoo.com

Elon Musk का प्रेरणादायक जीवन परिचय जिन्होंने अपने दम पर इसरो और नासा को टक्कर देने वाली कंपनी बना दी 

अब इस पहली को सुलझाने के लिए larry page और sergey Brin एक ऐसी algorithm की खोज में लग गए। जिस से सारी वेबसाइट को एक साथ लेके आ सके। और उनकी popularity के आधार पर उनके pages को ranking दी जा सके। उन दोनों ने अगले चार साल तक इस algorithm को बनाने के लिए दिन रात एक कर दिया और आखिरकार सितम्बर 1996 में उन्होंने ऐसा algorithm बना ही दिया।

दोस्तों आपको एक बात बता देता हूँ की google का नाम गणित के एक शब्द googol से लिया गया है। जिसका मतलब होता है 1 के पीछे 100 शून्य। लेकिन इसका domain name ragister करते वक़्त गलती से googol की जगह google टाइप हो गया था ।और फिर इसका नाम google ही हो गया।

इसके बाद इन दोनों ने अपने परिवार रिश्तेदारों और इन्वेस्टर से 10 लाख डॉलर की funding इकट्ठी की और फिर 1998 में उन्होंने Google.inc कंपनी की ।स्थापना की और अपने unique concept और algorithm की वजह से गूगल बहुत ही जल्द दुनिया का सबसे popular search engine बन गया। अब गूगल को चाहिए था की वह अपनी इस लोकप्रियता को  अपने इस आईडिया को पैसा कमाने का जरिया कैसे बनाये। तो इसके लिए उन्होंने काफी सोचा और फिर Google AdWords बनाया। जिसमें advertiser किसी keyword पर bid लगाये और जैसे ही कोई उस keyword को सर्च करे advertiser का प्रोडक्ट गूगल के फ्रंट पेज में साइड बार में दिखने लग जाये। और इसी तरह banner ऐड की सेवा भी शुरू की जिसमे एडवरटाइजर के प्रोडक्ट को एक इमेज के रूप में उस प्रोडक्ट से मिलती जुलती वेबसाइट पर दिखाया जा सके। और बस यही आईडिया काम कर गया और फिर Larry page और Sergey brin ने कभी भी पीछे मुड़ कर नहीं देखा। और एक से बढ़कर एक अपार सफलताओ को हासिल किया।

Stefphn howking का जीवन परिचय ऐसे वैज्ञानिक जिन्होंने भगवन को भी दे दी चुनौती 

Google का हेडऑफिस Mountain View, California, United States में है। जब साल 2004 में google का IPO share market में उतारा गया तो इन्वेस्टर ने बहुत ही बड़ी मात्र में इन्वेस्ट किया। और इस तरह गूगल इन्तेरेनेट की दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी बन गयी। और गूगल को बनाने वाले Larry page और Sergey Brin सबसे youngest billionaire बन गए और जिन लोग ने गूगल के शेयर खरीदे थे  आज वो भी मालामाल हैं। और 14 नवम्बर 2006 को गूगल ने आज के सबसे लोकप्रिय विडियो शेयरिंग वेबसाइट YouTube को भी खरीद लिया था। जो आज दुनिया की सबसे बड़ी विडियो शेयरिंग वेबसाइट है ।

 गूगल के के 10 बेस्ट प्रोडक्ट 


  • Google Search Engine
  • Google AdWords
  • Gmail
  • Chrome Browser
  • Google Analytics
  • Google Docs
  • Google Maps
  • Google Fiber

आपकी जानकारी के लिए बता दूँ कि google के पास अभी 50 से भी ज्यादा product हैं। और आज दुनिया भर के मोबाइल में सबसे ज्यादा उपयोग किया जाने वाला Operating system Android है। जो कि 30 अप्रैल 2009 को Google ने ही launch किया

OYO रूम के फाउंडर रितेश अगरवाल की सफलता की कहानी जिन्होंने खड़ी कर दी  Rs0 से लेकर Rs 700 करोड़ की कंपनी

लैरी पेज की कुल संपत्ति –


लैरी पेज की कुल संपत्ति $5,330 करोड़ है और दुनिया के  सबसे धनि व्यक्तियों में उनका नाम 10 वे नम्बर पर आता है। दोस्तों अगर हम बात करे गूगल की तो शायद ही कोई कंपनी होगी जो हमको इतना फायदा देती है । गूगल का Photo backup application सारी दुनिया के लिए फ्री है Google Map सारी दुनिया के लिए फ्री है।  ब्लॉगर (Blogger.com) सेवा भी सारी दुनिया के लिए फ्री है । अगर वे इनके भी पैसे लेने लग जाये तो नजाने गूगल कितना पैसा कमा लेगा । लेकिन larry page एक अच्छे और साधारण सवभाव के इंसान है जिनसे हमें भी बहुत कुछ करने की प्रेरणा मिलती है।

Share post, share knowledge

One thought on “Larry Page Biography in hindi”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *