पूरी दुनिया में कितने हिन्दू राष्ट्र हैं आइये जानते हैं

अगर मैं आपसे पुछु की पूरी दुनिया में कितने हिन्दू राष्ट्र हैं या कितने हिन्दू देश है तो शायद आप कहेंगे 2 भारत और नेपाल हैना ? लेकिन दोस्तों ऐसा नहीं है आज के इस आर्टिकल में मैं आपको 13 ऐसे देशों के बारे में बताऊँगा जहाँ हिन्दू लोग बहुत ज्यादा हैं। लेकिन आगे बढ़ने से पहले मैं आपको बता देता हूँ कि हिन्दू की परिभाषा क्या है ? हिन्दू किसी मजहब या धर्म का नाम  नहीं है यह बीते कल की वह सनातन संस्कृति है जो अनादि काल से चली आ रही है हिन्दू धर्म को पहले सनातन धर्म कहा जाता था लेकिन जब सनातन धर्म आपस में टूटने लग गया तो इसी सनातन धर्म से बौद्ध, जैन, और सिक्ख सम्प्रदायों की स्थापना हुई और फिर जो विदेशी मजहब थे जैसे इस्लाम, इसाई, यहूदी, पारसी तो फिर सनातन धर्म की पहचान भी हिन्दू धर्म के रूप में प्रसिद्ध हो गयी। दरअसल जो भारतीय मूल के मजहब हैं जैसे हिन्दू, बौद्ध, जैन, सिक्ख ये सभी के सभी पुनर्जन्म में विश्वाश रखते हैं और यह मानते हैं कि कर्मो के हिसाब से ही इंसान को फल मिलता है।  और यह सत्य भी है आप जैसा करोगे वैसा ही आपको मिलेगा।  आप मेहनत करोगे तो पास हो जाओगे और नहीं करोगे तो फ़ैल हो जाओगी। और यही बात जिंदगी में सभी जगह लागू होती है जैसे नौकरी, बिज़नेस, और अन्य सभी कामो में भी।

भारतीय मूल के जितने भी धर्म है उनमे कोई भी किसी के भी धार्मिक स्थल पर जा सकता है उनमे किसी को किसी से कोई आपत्ति नहीं होती है, मैं हिन्दू कई बार गुरूद्वारे गया हूँ, और लंगर भी खाया है और मेरे कई सिक्ख दोस्त हैं जिनके घरो में मैं श्री कृष्ण श्री राम की फोटो देखि है, भगवद गीता देखी है, और मेरे दोस्त कई बारे मेरे साथ मंदिर भी जाते हैं। वही बौद्ध और जैन भी सभी भारतीय मूल के धर्मो के मंदिर में बिना रोक टोक के आसानी से आते जाते रहते हैं। कोई चीज हराम है या ख़राब है यहाँ नहीं जाना वहां नहीं जाना ऐसी बाते विदेशी मजहबों में बताई गयी है भारतीय धर्मो में नहीं।

भारतीय मूल के सभी धर्म सत्य, अहिंसा, मैत्री, करुणा, सद्भवना और ब्रह्मचर्य को ही प्रोत्साहित करते हैं।  और इसी तरह से कोई भी व्यक्ति चाहे वो राम को माने, या श्री कृष्ण को, बुद्ध को, महावीर को, या गुरु नानक जी को लेकिन अगर वो सत्य, अहिंसा, मैत्री, करुणा, सद्भवना और ब्रह्मचर्य और पुनर्जन्म को मानता है तो वह हिन्दू ही है। और इसी तरह से हम इस बात कि पुष्टि करेंगे कि वो कौन कौन से राष्ट्र हैं जहाँ अभी सनातन धर्म का स्थापत्य है।

थाईलैंड – यहां बौद्ध धर्म को मानाने वालों की संख्या 94 % से भी ज्यादा है।

कम्बोडिया – यहां बौद्ध धर्म को मानाने वालों की संख्या 97 %  है।

म्यांमार – यहां बौद्ध धर्म को मानाने वालों की संख्या 88 %  है।

भूटान – यहाँ 74 % बौद्ध और 22.6 % हिन्दू धर्म को मानने वाले लोग रहते हैं

श्रीलंका – यहाँ 70 % बौद्ध और 13 % हिन्दू धर्म को मानने वाले लोग रहते हैं

तिब्ब्बत –  तिब्बत में 78.5% लोग बौद्ध धर्म को मानते हैं

लाओस – Laos में 66.5% लोग बौद्ध धर्म को मानते हैं

वियतनाम – यहाँ 12% बौद्ध लोग हैं।

जापान – जापान की आबादी के 34.9% लोग बौद्ध धर्म को मानते हैं और 52 % लोग शिंतो धर्म को मानते हैं, इसमें कई देवी-देवता हैं, जिनको कामी कहा जाता है। हर कामी किसी न किसी प्राकृतिक शक्ति का प्रतिनिधित्व करता है। बौद्ध धर्म के साथ इसका काफ़ी मेल मिलाप हुआ है और इसमें बौद्ध धर्म के कई सिद्धान्त जुड़ गये हैं।

त्रिनिदाद एंड टोबैगो – यहाँ हिन्दुओ की जनसँख्या 22.49% है। और आपको यहाँ बहुत सारे श्रीकृष्ण, हनुमान, गणेश जी और श्री राम के मंदिर मिल जायेंगे। और यहाँ के हिन्दू लोगो की शादी और रीती रिवाज भारतीयों जैसे ही है।

ताइवान – ताइवान में 35.1% बौद्ध धर्म के लोग और 33 % ताओइस्म के लोग रहते हैं और माइनॉरिटीज में अन्य मजहब भी रहते हैं।

नेपाल – नेपाल हमारे पडोसी मुल्क को तो आप जानते ही हैं यहाँ हिन्दुओ की जनसँख्या 81.3% है , बोद्धो की जनसँख्या 9.0% है 4 % इस्लाम और 1 % क्रिस्चियन हैं। 

भारत – भारत में धर्म और मजहबों के अनुसार जनसँख्या कुछ इस प्रकार है

हिन्दू  79.80%
मुस्लिम 14.23%
सिक्ख 1.72%
ईसाई 2.30%
बौद्ध 0.70%
जैन 0.37%
ज़ोरोस्ट्रियनिजम 0.04%

1951 से लेकर 2011 की जनगणना  के अनुसार देखे तो भारत में हिन्दू, सिक्ख, बौद्ध, जैन धर्म के लोगो की जनसँख्या में कमी आयी है जबकि क्रिस्चियन 1951 में भी 2.30% था और 2011 में भी 2.30% ही है, वहीँ मुस्लिम की जनसँख्या भारत में सबसे तेजी से बढ़ रही है। मुसलमानो की जनसँख्या 1951 में 9.8% थी जबकि 2011 में 14.23 % हो गयी है। सभी धर्म सम्प्रदायों के लोग अपनी अपनी जिम्मेदारी निभा रहे हैं लेकिन मुस्लिम नजाने क्या सोचकर इस जनसँख्या को इतना बढ़ा रहे हैं। इसीलिए अब देश सरकार से जनसँख्या नियंत्रण क़ानून की मांग कर रहा है।

 

Share post, share knowledge

One thought on “पूरी दुनिया में कितने हिन्दू राष्ट्र हैं आइये जानते हैं”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *