गुरु नानक देव जी के अनमोल विचार | Guru Nanak Dev Quotes in Hindi

गुरु नानक देव जी के अनमोल विचार | Guru Nanak Dev Quotes in Hindi

गुरु नानक देव जी के अनमोल विचार | Guru Nanak Dev Quotes in Hindi

Guru Nanak Dev Quotes in Hindi  गुरु नानक देव जी का जन्म  15 अप्रैल 1469 को पंजाब प्रान्त के तलवंडी ग्राम में हुआ था जो की वर्तमान में यह स्थान पाकिस्तान (Pakistan) में है । गुरू नानक सिखों के प्रथम गुरु हैं। इनके अनुयायी इन्हें गुरु नानक, गुरु नानक देव जी, बाबा नानक और नानकशाह नामों से संबोधित करते हैं। लद्दाख व तिब्बत में इन्हें नानक लामा भी कहा जाता है । गुरु नानक देव जी का सम्पूर्ण जीवन ही एक यज्ञ था । उन्होंने इस संसार को सत्य, शांति और प्रेम का संदेश दिया ।

गुरु नानक जी के अनमोल तथा शांतिप्रिय अध्यात्मिक विचारो को हमें जरुर पढ़ना चाहिए  और उन्हें अपने जीवन में अपनाना भी चाहिये। तो आइये पढ़ते हैं गुरु नानक देव जी के अनमोल विचार | Guru Nanak Dev Quotes in Hindi


गुरु नानक देव जी के अनमोल विचार | Guru Nanak Dev Quotes in Hindi

Guru Nanak Dev Quote  1 :-

न कोई हिन्दू है, न मुसलमान है, सभी मनुष्य हैं, सभी समान हैं।  –  Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev Quote  2 :-

हमेशा एक ईश्वर की उपासना करो । –  Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev Quotes in Hind  3 :-

कर्म भूमि पर फल के लिए श्रम सबको करना पड़ता है, रब सिर्फ लकीरे देता है रंग हमको भरना पड़ता है। –  Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev Quote  4 :-

कभी भी, किसी का हक, नहीं छीनना चाहिए।  –  Guru Nanak Dev

गुरु नानक देव जी के विचार  5 :-

ना मैं एक बच्चा हूँ , ना एक नवयुवक, ना ही मैं पौराणिक हूँ, ना ही किसी जाति का हूँ।   –  Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev Quote  6 :-

तेरी हजारों आँखें हैं और फिर भी एक आंख भी नहीं, तेरे हज़ारों रूप हैं फिर भी एक रूप भी नहीं।   –  Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev thought  7 :-

उसकी चमक से सबकुछ प्रकाशमान है।   –  Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev Quotes in Hindi  8 :-

 ये पूरी दुनिया कठनाइयो में है। वह जिसे खुद पर भरोसा है वही विजेता कहलाता है।    –  Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev Quote  9 :-

भगवान एक है, लेकिन उसके कई रूप हैं। वो सभी का निर्माणकर्ता है और वो खुद मनुष्य का रूप लेता है।    –  Guru Nanak Dev

यह भी पढ़ें : – श्रीमद्भगवद्गीता के अनमोल विचार | bhagwadgeeta quotes in hindi

Guru Nanak Dev Quote 10 :-

तू अगर मुझे नवाजे तो तेरा करम है मेरे मालिक, वरना तेरी रहमतों के काबिल मेरी बंदगी नहीं।  –  Guru Nanak Dev

Guru Nanak Devthought  11 :-

दुनिया में किसी भी व्यक्ति को भ्रम में नहीं रहना चाहिए। बिना गुरु के कोई भी दुसरे किनारे तक नहीं जा सकता है।    –  Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev Quotes in Hindi  12 :-

ना मैं पुरुष हु, ना ही महिला और ना ही नपुंसक, मैं तो बस एक शांतिवाहक हूँ जिसमे अपार आत्मविश्वास, साहस और अनंत ज्योति है।   –  Guru Nanak Dev

गुरु नानक देव जी के विचार 13 :-

बंधुओं ! हम मौत को बुरा नहीं कहते, यदि हम जानते कि वास्तव में मरा कैसे जाता है।   –  Guru Nanak Dev

गुरु नानक देव जी के अनमोल विचार | Guru Nanak Dev Quotes in Hindi

Guru Nanak Dev Quote 14 :-

मेरा जन्म नहीं हुआ है, भला मेरा जन्म या मृत्यु कैसे हो सकती है।  –  Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev Quote 15 :-

शांति से अपने ही घर में खुद का विचार करे तब आपको मृत्यु का दूत छु भी नही पायेगा ।     Guru Nanak Dev

गुरु नानक देव जी के विचार  16 :-

आप चाहे किसी भी प्रकार के बीज बोये, लेकिन उसे उचित मौसम में ही तैयार करे, यदि आप ध्यान से इन्हें देखोंगे तो पाएंगे की बीज के गुण ही उन्हें ऊपर लाते है।    Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev Quote  17 :-

 कोई उसे तर्क द्वारा नहीं समझ सकता, भले वो युगों तक तर्क करता रहे ।   –   Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev Quote in Hindi  18 :-

दूब की तरह छोटे बनकर रहो ! जब घास-पात जल जाते है तब भी दूब जस की तस रहती है।     Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev Quote in Hindi  19 :-

माया को जेब में ही स्थान देना चाहिए, अपने हृदय में नहीं।  –   Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev Thought  20:-

योगी को किस बात का डर होना चाहिए? पेड़, पौधे सभी उसीके अंदर और बाहर होते है।   –   Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev Quotes in Hindi 21 :-

तुम्हारी दया ही मेरा सामाजिक दर्जा (ओहदा) है।    –   Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev Quote  22 :-

धन-समृद्धि से युक्त बड़े बड़े राज्यों के राजा-महाराजों की तुलना भी उस चींटी से नहीं की जा सकती है जिसमे में ईश्वर का प्रेम भरा हो।   –   Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev Hindi Thought  23 :-

 चिंता से दूर रहकर अपने कर्म करते रहना चाहिए  –   Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev Quote 24 :-

प्रभु के लिए खुशियों के गीत गाओ, प्रभु के नाम की सेवा करो, और उसके सेवकों के सेवक बन जाओ। –   Guru Nanak Dev

गुरु नानक देव जी के विचार  25 :-

सिर्फ और सिर्फ वहि बोले जो शब्द आपको सम्मानित करते है।   –   Guru Nanak Dev

यह भी पढ़ें : – महात्मा गांधी के अनमोल विचार | Mahatma Gandhi Quotes In Hindi

Guru Nanak Dev Quote 26 :-

ये दुनिया एक नाटक है जिसे सपनो में प्रस्तुत करना होता है ।   –   Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev Quote 27 :-

ईश्वर सर्वत्र विद्यमान है हम सबका पिता है इसलिए हमे सबके साथ मिलजुलकर प्रेमपूर्वक रहना चाहिए।   –  Guru Nanak Dev

गुरु नानक देव जी के अनमोल विचार | Guru Nanak Dev Quotes in Hindi

Guru Nanak Dev Quote 28 :-

वह सब कुछ है लेकिन भगवान केवल एक ही है। उसका नाम सत्य है, रचनात्मकता उसकी शख्सियत है और अनश्वर ही उसका स्वरुप है। जिसमे जरा भी डर नही, जो द्वेष भाव से पराया है। गुरु की दया से ही इसे प्राप्त किया जा सकता है।   –  Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev Quote in Hindi 29 :-

पने मेहनत की कमाई से जरुरतमन्द की भलाई भी करनी चाहिए।   –  Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev Thought   30 :-

सच्चा धार्मिक वही है जो सभी लोगो का एक समान रूप से सबका सम्मान करते है।   – –  Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev Hindi Quote  31 :-

सांसारिक प्यार को जला दे, अपनी राख को घिसे और उसकी स्याही बनाये, अपने दिल को कलम (पेन) बनाये, अपनी बुद्धि को लेखक बनाये, और वह लिखे जिसका कोई अंत ना हो और जिसकी कोई सीमा न हो  ।     Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev Quote 32 :-

सेवक के लिए संतोषी होना आवश्यक है. यह तभी हो सकेगा यदि सेवक सत्य पर चलनेवाला हो और बुरे कार्यों से संकोच करते हुये श्रेष्ठ और निर्मल व्यापार एवं परिश्रम करता हो।     Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev Quote 33 :-

भगवान पर वही विश्वास कर सकता है जिसे खुद पर विश्वास हो।   –   Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev Thought   34 :-

 वे लोग जिनके पास प्यार है, वे उन लोगो में से है जिन्होंने भगवान को ढूंढ लिया ।    –   Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev Quotes in Hindi  35 :-

आप सबकी सदभावना ही मेरी सच्ची सामजिक प्रतिष्ठा है।  –   Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev Quote 36 :-

हमेशा दूसरे के मदद के लिए आगे रहो।   –  Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev Quote 37 :-

रैन गवाई सोई के, दिवसु गवाईयाँ खाय, हीरे जैसा जनमु है, कउडी बदले जाय. अर्थात मनुष्य अपना जीवन सोने और खाने जैसे कार्यों में गवा देता है और उसका मनुष्य जीवन बर्बाद हो जाता है ।   –   Guru Nanak Dev

यह भी पढ़ें : – महान दार्शनिक अरस्तू के अनमोल विचार | Aristotle quotes in Hindi

Guru Nanak Dev Quote 38 :-

संसार को जीतने के लिए अपने कमियों और विकारो पर विजय पाना भी जरुरी है।  –   Guru Nanak Dev

गुरु नानक देव जी के अनमोल विचार | Guru Nanak Dev Quotes in Hindi

Guru Nanak Dev Quote in Hindi  39 :-

ईश्वर स्मरण में गुरु की सहायता आवश्यक है. इसलिए गुरु का सम्मान और वंदन करें।     Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev Quote  40 :-

रस्सी की अज्ञानता के कारण रस्सी सांप प्रतीत होता है; स्वयं की अज्ञानता के कारण क्षणिक स्थिति भी स्वयं का व्यक्तिगत, सीमित, अभूतपूर्व स्वरूप प्रतीत होती है।   –   Guru Nanak Dev

गुरु नानक देव जी के विचार  41 :-

जब हाथ, पैर और शरीर गन्दा हो जाता है तो जल उसे धोकर साफ़ कर देता है. जब कपड़े गंदे हो जाते हैं तो साबुन उसे साफ़ कर देता है. जब मन पाप और लज्जा से अपवित्र हो जाता है, तब ईश्वर नाम के प्रेम से वह स्वच्छ हो जाता है ।     Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev Thought   42 :-

अहंकार कभी भी मनुष्य को मनुष्य बनकर नही रहने देता है इसलिए कभी भी अहंकार या घमंड नही करना चाहिए।    –   Guru Nanak Dev

Guru Nanak Dev Quotes in Hindi 43 :-

गुरु उपकारक हैं, पूर्ण शान्ति उसमें निहित हैं. वह त्रैलोक्य में उजाला करने वाला प्रकाश पुंज हैं. गुरु से प्यार करनेवाला व्यक्ति चिर शांति प्राप्त करता हैं।  –   Guru Nanak Dev

तो दोस्तों आशा है कि गुरु नानक देव जी के अनमोल विचार | Guru Nanak Dev Qutoes in Hindi पढ़कर आपको अच्छा लगा होगा और आपके  अंदर भी अध्यात्म की एक नयी रौशनी जगी होगी । आप अपने विचार और राय नीचे comment बॉक्स में लिख सकते हैं। और ऐसे ही अन्य महान व्यक्तियों के अनमोल और प्रेरणादायी विचार  | Hindi Motivational quotes and thoughts आप नीचे पढ़ सकते हैं ।


Share post, share knowledge

One thought on “गुरु नानक देव जी के अनमोल विचार | Guru Nanak Dev Quotes in Hindi”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *