इक्विटी म्यूच्यूअल फण्ड क्या है | Equity Mutual Fund in Hindi

इक्विटी म्यूच्यूअल फण्ड क्या है | Equity Mutual Fund in Hindi

नमस्कार दोस्तों, पिछले आर्टिकल में मैंने आपको बताया था कि  डेब्ट म्यूच्यूअल फण्ड क्या होता है । और आज मैं आपको बताऊंगा की इक्विटी म्यूच्यूअल फण्ड (Equity Mutual Fund) क्या होता है आप उसको भी पढ़ सकते हैं।

इक्विटी म्यूच्यूअल फण्ड क्या है | Equity Mutual Fund in Hindi


तो दोस्तों जैसे की आप जानते ही हैं, कि डेब्ट म्यूच्यूअल फण्ड में तो आप govt,companies, financial institutions को loan देते हैं। क्योंकि आप लोन दे रहे हैं इसलिए आपका फायदा पहेल ही तय हो जाता है, किस दर पर उनको लोन दे रहे हैं तो अपका जो Profit होगा वह सीमित होगा limited होगा।

जबकि दूसरी तरफ अगर आप अपना पैसा इक्विटी म्यूच्यूअल फण्ड | Equity Mutual Fund में लगाते हैं, तो यहाँ आपके Profit की कोई limit नही होती क्योंकि यहाँ आप companies, financial institutions को loan नहीं देते बल्कि उनके शेयर होल्डर( share holder) बनते हैं। और कम्पनी की होने वाली growth से आपको भी अच्छे रिटर्न्स मिलते हैं।  एक तरफ जहा डेब्ट म्यूच्यूअल फण्ड में आपके रिटर्न्स की लिमिट सीमित होती है, वही इक्विटी म्यूच्यूअल फण्ड में आपके रिटर्न्स आपके द्वारा खरीदे गए शेयर्स पर निर्भर करता है। आप जितना बड़ा शेयर खरीदेंगे रिटर्न्स भी उतने ही अच्छे मिलेंगे।

लेकिन इक्विटी म्यूच्यूअल फण्ड और डेब्ट म्यूच्यूअल फण्ड दोनों की अपनी अपनी खूबिया हैं Debt mutual fund में आपका रिटर्न्स पहले से ही तय हो जाता है।  तो उसमें आपका रिस्क बहतु ही कम रहता है, जबकि इक्विटी म्यूच्यूअल फण्ड में पहले से कुछ तय नहीं होता, क्योंकि जिस कंपनी में या जिस फाइनेंसियल इंस्टीट्यूशन का आप शेयर खरीद रहे हैं उस पर निर्भर करता है कि वह कितनी grow करती है, कितनी अच्छी डेवेलोप होती है । अगर grow करती है । तो आपका फायदा ही फायदा और अगर loss में जाती है तो फिर आपको भी loss झेलना पड़ता है।

इक्विटी म्यूच्यूअल फण्ड क्या है | Equity Mutual Fund in Hindi

 

 

 

 

इक्विटी म्यूच्यूअल फण्ड के फायदे | Benifites of Equity Mutual Fund


अच्छे रिटर्न्स | Better results

बहुत कम ऐसे chances होते हैं की आपका पैसा यहाँ डूबे, लेकिन अगर सोच समझ कर किसी अच्छी companies, financial institutions में पैसा निवेश किया जाए तो आपका फायदा होने का चांस ज्यादा रहता है। और जितनी अच्छी कमपनी की ग्रोथ होगी उतने ही अच्छे आपको रिटर्न्स भी मिलेंगे।  एक आंकड़ो के मुताबिक पिछले 20 सालों में अच्छे इक्विटी म्यूच्यूअल फण्ड ने अपने Investor के लिए 15-20% के रिटर्न्स कमाए हैं, जबकि कुछ कुछ ऐसी कंपनियां भी हैं जिन्होंने अपने Investor के लिए 20% तक के रिटर्न्स कमाए हैं ।

विविधता | diversification 

आप इक्विटी म्यूच्यूअल फण्ड में कम से कम 500 रुपये Invest कर सकते हैं , और जो एक अच्छे इक्विटी म्यूच्यूअल फण्ड के portfolio में 50 से 80 stocks होते हैं, और इस प्रकार से वह इक्विटी म्यूच्यूअल फण्ड कंपनी आपका पैसा उन सभी स्टॉक्स में लगा देती है न की किसी एक में।

इसलिए से आपके इन्वेस्टमेंट पर रिस्क कम हो जाता है क्योंकि अगर एक स्टॉक्स से अछे रिटर्न्स नाआयें तो दुसरे से तो आएंगे ही, और दुसरे से ना आये तो तीसरे से तो आयेंगे ही।  इस तरह 30 -80 स्टॉक्स में से किसी न क्सिसी में तो अच्छा रिटर्न्स मिलेंगे ही, तो   इस तरह से आपका Invest किया  गया पैसा diversification के कारण कम रिस्क में रहता है।

कुशल विशेषज्ञ | professional expertise

ये मार्किट के बारे में जानने वाले वो professional expert लोग होते हैं, जिनको मार्किट के बारे में अच्छी खासी नॉलेज होती है इनको पता होता है, की कब कहा और कैसे पैसा Invest करना है, जहा से उन्हें अच्छे रिटर्न्स मिल सके । हर म्यूच्यूअल फण्ड कम्न्पनी के पास विशेषज्ञों की एक टीम होती है जिनका सारा वक़्त मार्किट को रिसर्च करने में लगता है, और फिर यही एक्सपर्ट्स आपके पैसे को सोच समझ कर निवेश (Invest) करते हैं ।

Text Benifits 

यदि आप अपने इक्विटी म्यूच्यूअल फण्ड को एक साल के अंदर बेच देते है तो तो जो भी गेन्स आप उन पर कमाते है, उन पर आपको flat 15% के हिसाब से Tex भरना पड़ता है, और अगर आप  अपने इक्विटी म्यूच्यूअल फण्ड को 1 साल के बाद बेचते हैं तो आपको किसी भी gains पर कोई भी tex नहीं भरना पड़ता ।

Lquidity

यदि आपको कभी urgent पैसो की जरुरत पड़ती है, तो आप अपने इन्वेस्टमेंट में से कुछ हिस्सा बेचना चाहे और कुछ इन्वेस्ट रखना चाहे तो इक्विटी म्यूच्यूअल फण्ड  में यह भी संभव है ।

  1. यदि आपका म्यूच्यूअल फण्ड Open Ended म्यूच्यूअल फण्ड है तो आप कभी भी redemption कर सकते है।
  2. यदि आपका म्यूच्यूअल फण्ड Closed Ended म्यूच्यूअल फण्ड है ,तो यह  Initial offer के बाद स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्ट होता है जहा आप इसको redeam कर सकते हैं ।

convenient

इसमें आपको म्यूच्यूअल फण्ड हाउस, Onlines, Banks, distributer, brokers, advisors , इत्यादि से निवेश कर सकते हैं, और एक फॉर्म भरकर या online अपना redemption करवा सकते हैं, और redemption करवाने पर 3 दिन के अंदर-अंदर आपके अकाउंट में आ जाते हैं ।

Secure well regulated 

mutual fund industry को SEBI यानी Securities and Exchange Board of India बखूबी regulat करती है, जिससे इन्वेस्टर protected रहते हैं ।

Final Words


तो दोस्तों इस लेख में हमने सीखा कि इक्विटी म्यूच्यूअल फण्ड क्या है | Equity Mutual Fund in Hindi और आशा करता हूँ कि आपको इक्विटी म्यूच्यूअल फण्ड के बारे में पता चल गया होगा । यदि आपका कोई सुझाव या राय हो तो हमें नीचे कमेंट्स कर सकते हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *