DDoS attaack क्या होता है पूरी जानकारी

DDoS अटैक क्या है || what is DDoS attack

इन्टरनेट और इन्टरनेट जहाँ देखो इन्टरनेट, इस बात में कोई संदेह नहीं है कि इन्टनेट ने आज के lifestyle को बदल कर रख दिया है।  और हमारे लाखो काम Easy कर दिए हैं  चाहे हम internet banking कर रहे हैं या Online shoping , किसी Application को submit करना ।हो या किसी job के लिए apply करना हो बहुत सारे काम इन्टरनेट से आसान हो गए हैं लेकिन  हर सिक्के के दो पहलु होते हैं इसलिए जहाँ   सुविधा है वहां खतरा भी रहता है। इसी तरह से इन्टरनेट पर भी सुविधाओ के साथ कई सारे खतरे हैं और इन खतरों को भी हमारे जैसे ही इंसान पैदा करते हैं जिनको कहा जाता है Hackers.ये Hackers किसी Website  को server  को जब हैक कर लेते हैं तो फिर ये Hackers उस Website या server को अपनी मन मर्जी के मुताबित Handle या Operate कर सकते हैं। यूँ तो hackers के द्वारा बहुत तरह  के attack किये जाते हैं लेकिन आज मैं आपको सबसे ज्यादा होने वाले attack यानी DDos attack के बारे में बताऊंगा।

ddos attack in hindi,

DDoS attaack क्या होता है


DDos attack  की  फुल फॉर्म होती है Distributed Denial of Service attack. यह इन्टरनेट की दुनियां में किसी server या Website पर किया जाने वाला एक ऐसा Attack है जिस से किसी भी सर्वर या वेबसाइट को डाउन कर दिया जाता है या बंद कर दिया जाता है या फिर उस वेबसाइट के यूजर के लिए वेबसाइट को unavailabe कर दिया जाता है । जिस से कोई भी user उस वेबसाइट तक नहीं पहुच पाता है और इस पूरी प्रक्रिया के पीछे सिर्फ एक ही आदमी का हाथ नहीं होता है बल्कि hackers की पूरी  team होती है जो मिलकर इस DDoS attack को अंजाम देते हैं। और DDos attack करने वाली यह टीम Botnet के जरिये किसी साईट को डाउन या उस वेबसाइट के यूजर के लिए सर्विस unavailable कर देते हैं ।

DDoS attaack कैसे होता है 


दुनिया में किसी भी चीज की काम करने की अपनी एक लिमिट होती है उसी तरह से website की भी एक लिमिट होती है की वह एक मिनट में कितने लोगो को access करने की इज़ाज़त देती है । यदि किसी वेबसाइट की limit है की उस उस website को 1 मिनट में सिर्फ 100 लोग ही access कर सकते हैं यदि उस से ज्यादा आएंगे तो साईट डाउन हो जाएगी या बंद हो जाएगी, तो सिंपल सी बात है की अगर 100 से ज्यादा लोग 1 मिनट में उस वेबसाइट को ओपन  करेंगे तो वह बंद या down  हो जाएगी। और Hacker भी ऐसे ही किसी वेबसाइट पर over traffic भेज कर उस साईट को डाउन कर देते हैं, जिस से उसके User उस वेबसाइट पर नहीं पहुँच पाते हैं या उस वेबसाइट को ओपन ही नहीं कर पाते हैं । और फिर क्या आपका जो भी काम धाम वेबसाइट से चल रहा था वह नहीं हो पायेगा अब सवाल यह आता है की Hackers वेबसाइट पर इतना ट्रैफिक भेजते हैं से हैं तो मैं आपको बता देता हूँ की वे इसके लिए Botnet का स्तेमाल करते हैं ।

Botnet क्या होता है


Botnet एक तरह का digital robot होता है जो अपने मालिक के दिए हुए निर्देश पर ही कार्य करता है और इसी तरह  hacker भी अपनी किसी वेबसाइट पर या किसी social site पर अपनी किसी फाइल के साथ एक bot attache कर देते हैं जी से कोई भी इंसान अगर उस file को downlaod करेगा तो उस file के साथ वह bot भी download हो जायेगा और इसी तरह जीतने भी लोग उस फाइल को डाउनलोड करेंगे उनके कंप्यूटर में वह bot चला जायेगा। और फिर जैसे उसका administrator उस बोत को command देगा वाह वैसा ही काम करेगा और इस तरह hacker अगर किसी वेबसाइट को target बनाना चाहते हैं तो जितने भी कंप्यूटर में उनका bot है वह सबको  कमांड दे देंगे और घर बैठे दुनिया भर के अलग अलग कंप्यूटर से उस वेबसाइट पर बेफालतू का traffic भेज देंगे जिनका कोई मतलब ही नहीं और ऐसे में वह साईट इतने सरे यूजर को हैंडल नहीं कर पायेगी और आखिरकार वह website down  हो जाएगी ।

bot का एक example hike पर भी है जैसे आप hike इनस्टॉल करते हैं तो एक bot आपसे chat करता है जो इंसान नहीं होता है एक मशीन या रोबोट होती है जिसके साथ आप अपना टाइमपास कर सकते हैं ।

DDoS attaack से hacker को क्या फायदा होता है 


ऐसा तो हो नहीं सकता की कोई इतनी मेहनत करके DDoS attack सिर्फ टाइमपास करने के लिए करे तो फिर आखिर DDoS attack  करने के पीछे हैकर का मकसद होता क्या है। तो आपको बता देता हूँ की  DDoS attack  करने के पीछे उनका मकसद होता है  पैसे कमाना या फिर competition करने के लिए या फिर हो सकता है किसी से कोई दुश्मनी हो ।

  • जैसे हैकर किसी वेबसाइट पर DDoS attack करता है और वह साईट नहीं खुल पाती है तो ऐसे में हैकर उस वेबसाइट ओनर को कहेगा की आप मुझे पैसे दो और फिर मैं आपकी साईट को up कर दूंगा यानी ठीक कर दूंगा, या फिर आप मुझे इतने रुपये दो फिर मैं कभी आपकी वेबसाइट पर DDoS attack नहीं करूँगा। तो ऐसे में वेबसाइट ओनर को जितना  हैकर बोलेगा उतना पैसा देना ही पड़ेगा वरना साईट डाउन रह जाएगी ।
  • दुसरा है competition जैसे दोनों वेबसाइट है और दोनों E commerce की वेबसाइट हैं और यदि एक ने दुसरे की वेबसाइट पर DDoS attack कर दिया तो सिंपल सी बात है की अब लोग अपनी जरूरतों का सामना खरीदने के लिए उसी वेबसाइट पर जायेगे जो चल रही है ऐसे में दुसरे का करोबार ठप्प हो जायेगा और पहले का दुगुना बढ़ जायेगा ।
  • या फिर रेयर केस में किसी को किसी का बदला लेना हो तो भी DDoS attack कर सकता है ।

तो यह थी DDoS की जानकारी तो like share और comment करना न भूले ।

यह भी पढ़ें>

About kailash

मेरा नाम कैलाश रावत है और मैं hindish.com का एडमिन व लेखक हूँ और इस ब्लॉग पर निरंतर हिन्दी में ,टेक,टिप्स,जीवनियाँ,रहस्य,व अन्य जानकारी वाली पोस्ट share करता रहता हूँ, मेरा मकसद यह है की जैसे बाकि भाषाए इन्टरनेट पर अपनी एक अलग पह्चान बना रही हैं तो फिर हम भी अपनी मात्र भाषा की इन्टरनेट की दुनियां में अलग पहचान बनाये न की hinglish में ।

Share post, share knowledge

4 thoughts on “DDoS attaack क्या होता है पूरी जानकारी”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *