भारत की रहस्यमयी घटनाये जिन्हें आप नहीं जानते होंगे

mystery of roopkund uttarakhand

वैसे तो भारत की धरती रहस्यमयी घटनाओ से भरी पड़ी है, कुछ अफवाहें भी है तो कुछ सच भी है मगर हम आपके साथ उन चुनिंदा घटनाओ का ज़िक्र करने जा रहे हैं जो सच में आज तक रहस्यमयी घटनाये बनकर रह गयी। तो चलिए जानते हैं। 


Sonic boom,Jodhpur : बात है 18 December 2012 की,जयपुर ,राजस्थान में सभी लोग हमेशा की तरह अपनी normal life जी रहे थे की अचानक 11:25am पर आस्मां में एक बड़ा जोर की धमाके की आवाज आई जो की एक sonic boom की तरह थी जिसने पुरे शहर के लोगो को डरा दिया।
यह भी पढ़ें – समय यात्रा  की 10 रहस्यमयी घटनाएँ

पहले लोगो को लगा की  मिलिट्री ने किसी aircraft  परिक्षण किया हो इसलिए ऐसा हुआ मगर यह घटना तब रहस्यमई बनकर रह गयी जब मिलिट्री ने कहा की उस दिन उन्होंने कोई  भी परिक्षण नहीं किया। इस घटना को Jodhpur sonic boom के नाम से जाना जाता है। आपको बता दें की sonic boom बहुत ही तेज आवाज  होती है जिसका परिक्षण शहर में करना ban है।

conic boom jaypur mystery
sonic boom jaipur


Kuldhara village,Jaisalmer : 13 वी शताब्दी के आस पास जैसलमेर से करीब 18 किलोमीटर की दूरी पर स्थित  पाली ब्राह्मणों के द्वारा बसे गया एक गांव जिसका नाम था कुलधारा गांव। जो एक ही रात में खाली हो गया था। और अब तक वह कोई परिवार नहीं बस पाया।  राजस्थान सरकार ने भी इसको  विकसित करने के बजाय इसको पर्यटन स्थल बना दिया है। 

kuldhara village rajastahn रहस्यमयी
kuldhara village rajasthan


Red rain of kerala : यहाँ 23 से 25 सितंबर को जब लाल रंग की खूनी बारिश हुई तो सब लोग हैरान हो गए,कुछ लोगो ने इसे अन्तरिक्ष में   किसी पिंड के फटने की वजह बताई तो कुछ लोगो ने इसे alience  attack भी कहा,शोधकर्ताओं ने इसका कारण शैवाल बताया । मगर ये पता नहीं चला की आखिर सच क्या है। 

Red rain of kerala रहस्यमयी
Red rain of kerala


Roopkund Uttarakhand : उत्तराखण्ड में जब रूपकुंड की झील का पानी काम होता है तो यहाँ कुछ इंसानो के कंकाल मिलते हैं ये अभी भी रहस्य बना हुआ है की वो कंकाल आखिर कहाँ से आये और वो  लोग कौन थे। शोधकर्ता का मानना हैं की बर्षो पहले यहाँ किसी आपदा में यहाँ के लोग मर गए थे और और अत्यधिक ठण्ड होने से उनके कंकाल सलामत हैं। 

mystery of roopkund uttarakhand रहस्यमयी
roopkund uttarakhand


ladakh kashmir : अगस्त 2012 में पुलिस ने indo-tibbet  बॉर्डर के सामने दूर से एक 100 से भी ज्यादा उजालो का एक दस्ता देखा जो कहाँ से आया था और क्या था इसका अभी कुछ पता नहीं चल पाया।लदाख के  कोंग ला पास में अक्सर alience और उनके एयरक्राफ्ट देखे जाने की शंकाये बार बार सुनने वे देखने को मिलती हैं।

ladhakh mystery

इनको भी पढ़ें- आखिर क्या हैं इन जगहों का रहस्य जिन्हें कोई नहीं सुलझा पाया

About kailash

मेरा नाम कैलाश रावत है और मैं hindish.com का एडमिन व लेखक हूँ और इस ब्लॉग पर निरंतर हिन्दी में ,टेक,टिप्स,जीवनियाँ,रहस्य,व अन्य जानकारी वाली पोस्ट share करता रहता हूँ, मेरा मकसद यह है की जैसे बाकि भाषाए इन्टरनेट पर अपनी एक अलग पह्चान बना रही हैं तो फिर हम भी अपनी मात्र भाषा की इन्टरनेट की दुनियां में अलग पहचान बनाये न की hinglish में ।

Share post, share knowledge

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *