भारत सबसे अमीर देश है आपको अंदाज़ा भी नहीं है

मेरे प्यारे भारत वासियो आज भारत की जिस  महानता को मैं आपको बताने जा रहा हूँ उसको  जानकर आपको एक भारतीय  होने  पर गर्व होगा। और आपको ख़ुशी होगी की आपका जन्म भारत में हुआ है।  मैं ऐसा इसलिए कह रहा हूँ क्योंकि कुछ लोग ऐसे भी पैदा होते हैं भारत में जिनको इतना अच्छा देश होते हुए भी भारत में तकलीफ होती है, इतनी आज़ादी होते हुए भी और आज़ादी चाहिए होती है आइए गद्दारो को भारत से बहार ही  भेज देना चाहिए लेकिन फिर भी भारत उनको सह लेता है।


ऋतुओं के मामले में अबसे अमीर देश –

दुनिया के कई प्रदेश ऐसे हैं जहाँ पुरे साल या तो सर्दी ही होती है। या फिर गर्मी ही होती है कहीं कही बरसात होती है तो कहीं खतरनाक बरसात होती है। और अंटार्कटिका में तो 6 महीने तक सूरज ही नहीं निकलता और जब निकलता है तो 6 महीने तक डूबता ही नहीं है। और Europe घूमने  अच्छी जगह है जहाँ  क्योंकि वह चार ऋतुएँ होती हैं, बाकि देशो में सिर्फ दो या तीन ही ऋतुएँ होती है।  लेकिन दोस्तों भारत दुनिया का एक मात्रा ऐसा देश है जहाँ एक साल में 6 ऋतुएँ होती है। उनके नाम आप नीचे पढ़ सकते हैं।

भारत की 6 ऋतुओ एक नाम –

ऋतु हिन्दू मास ग्रेगरियन मास
   वसन्त            चैत्र से वैशाख (वैदिक मधु और माधव) मार्च से अप्रैल
   ग्रीष्म  ज्येष्ठ से आषाढ (वैदिक शुक्र और शुचि) मई से जून
   वर्षा  श्रावन से भाद्रपद (वैदिक नभः और नभस्य) जुलाई से सितम्बर
   शरद्  आश्विन से कार्तिक (वैदिक इष और उर्ज) अक्टूबर से नवम्बर
   हेमन्त  मार्गशीर्ष से पौष (वैदिक सहः और सहस्य) दिसम्बर से 15 जनवरी
   शिशिर  माघ से फाल्गुन (वैदिक तपः और तपस्य) 16 जनवरी से फरवरी

तो दोस्तों अब आप ही बताइये की अगर सिर्फ चार ऋतुओ के होने से ये यूरोपीय देश (Switzerland, Norway, Iceland, Sweden, United Kingdom, etc ) अच्छे हो सकते हैं तो फिर हमारा भारत तो छः ऋतुओ के होने के कारण इन सभी देशो से ज्यादा खूबसूरत है। अब आप लोग कहेंगे कि मौसम से ही थोड़ी न सब कुछ होता है धरती दिखने में भी सुन्दर होनी चाहिए।  हैंना ? तो ठीक है मेरे भाइयो इसके लिए भी आप अपने भारत को जान लो।

दुनिया में कई देश ऐसे हैं जहाँ सिर्फ Beach हैं पहाड़ ही नहीं। अगर कहीं पहाड़ हैं तो फिर beach ही नहीं। कही रेगिस्तान है तो हरियाली नहीं , तो मतलब समस्या सभी जगह है। beach वाले लोगों को अगर घूमने के लिए जाना होगा तो उनको दूसरे देश का वीज़ा लेना पड़ता है और तब जाकर वो लोग समुद्र का किनारा देख पाते हैं। किसी के देश में पहाड़ नहीं है और अगर उसका पहाड़ देखने का मन हुआ तो उसको पैसे खर्च करके वीज़ा लगा के दूसरे देश जाना पड़ता है।  और अपने देश की महानता देखो।


सुंदरता के मामले में भारत सबसे आगे –

अगर आपको beach ( समुद्री तट ) देखने का मन है तो आपको कहीं और जाने की जरुरत नहीं आप गुजरात में जाओ  वहां आपको घूमने के लिए 10 से ज्यादा बीच  जायेंगे।

इसके अलावा 40 से ज्यादा beach तो अकेले मुंबई में ही हैं।

13 beach गोवा में हैं जहाँ घूमने के लिए सिर्फ भारत वाले ही नहीं बल्कि देश विदेश से भी लोग आते हैं।

  • Agonda Beach
  • Arambol Beach
  • Benaulim Beach
  • Cavelossim Beach
  • Chapora Beach
  • Mandrem Beach
  • Palolem Beach
  • Varca Beach
  • Baga Beach
  • Candolim Beach
  • Calangute Beach
  • Colva Beach
  • Miramar Beach, Goa

यहाँ तक की अपने कर्णाटक में भी करीब 15 Beach हैं। उसके बाद अगर आप केरल में जाओगे तो आपको 15 से ज्यादा बीच मिल जाएगेँ।इसके अलावा पश्चिम बंगाल, ओडिशा, आंध्र प्रदेश में भी बीच हैं लेकीन वे ज्यादा प्रसिद्ध नहीं हैं।

अब आप लोग कहेंगे की हमको तो पहाड़ो पर घूमना है –

तो मेरे दोस्तों उसके लिए भी आप को कही बाहर जाने की जरुरत नहीं आप उत्तराखंड, हिमांचल प्रदेश, अरुणांचल प्रदेश, सिक्किम, तमिल नाडु में चले जाइए दुनिया के अच्छे से अच्छे खूबसूरत पहाड़ आपको यहाँ देखने को मिल जायेंगे। उत्तराखंड के चमोली जिले में एक फूलों की घाटी हैं जहाँ पहाड़ो पर चारो तरफ फूल ही फूल खिले होते हैं और फूलो की खुशबु हवा में बहती रहती है आपको लगेगा की आप  स्वर्ग में आ गये ऐसा आपको दुनिया में कही और देखने को नहीं मिलेगा। हिमांचल में शिमला और कुल्लू में आपको बर्फ भी देखने को मिल जाएगी। अपने धार्मिक स्थल चार धाम भी बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री, यमनोत्री उत्तराखंड में पहाड़ो पर ही हैं। आप मेरी यह पोस्ट पढ़ सकते हैं जिसमें मैंने भारत के टॉप 10 Hill Station के बारे में बताया है आप चेक कर सकते हैं।

अब आप लोग बोलेंगे की हमको तो रेगिस्तान देखना है तो मैं कहाँ जाऊं 

दोस्त राजस्थान में थार मरुस्थल (Thar Desert ) दुनिया का सातवां सबसे बड़ा मरुस्थल है। इसके अलावा जोधपुर, जैसलमेर, बाड़मेर, चले जाइये आप अच्छे से एडवेंचर कर के आ जायेंगे। इसके अलावा नमक का दलदल के लिए जाने जाना वाला कच्छ का रण भी अपने गुजरात में है। वहां भी आप आप घूमने जा सकते हैं। इतनी प्रकार की भूमि हमारे भारत देश में है यानी आपको जहाँ जाने का मन करे आपको कही विदेश जाने की जरूरत नहीं  आपको अपने ही देश में सब कुछ देखने को घूमने को मिल जायेगा। तो अब क्या कहेंगे आप क्या मेरा देश किसी से गरीब है ? बिलकुल भी नहीं जितना अमीर मेरे देश की धरती है उतनी दुनिया में कोई भी धरती नहीं। और हाँ आपको  एक और बात बता देता हूँ।

सभी तरह की फसलें और फल फ्रूट भी भारत में उगाई जा सकते हैं

दोस्तों भारत में सभी तरह के मौसम और सभी तरह की उपजाउ भूमि होने के कारण सभी सभी तरह की फसलें और फल फ्रूट भी उगाये जा सकते हैं। दुनिया के कुछ गिने चुने देश हैं जहाँ आम होते हैं और भारत में आप ही आम मिल जायेंगे आपको एक नहीं बल्कि 283 से भी ज्यादा प्रकार के आम भारत में मिल जायेंगे। आप उत्पादक देशो में भारत सबसे पहले नंबर पर है।  आपको यकीन नहीं होगा दुनिया के कई लोगो ने तो केला खाया ही नहीं होगा क्योंकि उनके देश में केला होता ही नहीं है। और भारत दुनिया में केला का सबसे बड़ा उत्पादक देश है जहाँ केला तो मिलता ही साथ ही केले की 1000 से भी ज्यादा प्रजाति भारत में पाई जाती है। इसके अलावा नाशपाती, सेब, खुबानी, लीची, अमरुद, पपीता, अंगूर, अनार, बेर, सभी प्रकार के फल भारत में होते हैं। इसके आलावा अगर हम गेहूं, धान, मक्का, जौ, बाजरा, सरसो, तिल, सभी तरह की फैसले और दाल,सब्जी भी भारत में होती हैं।

तो दोस्तों  अब आप ही सोचिये की क्या सच में मेरा देश गरीब है मुझे नहीं लगता जिस देश के पास सभी प्रकार के सौंदर्य हो, सभी प्रकार की उपजाउ भूमि हो, सभी प्रकार की फैसले हों, सभी प्रकार  फल हों, सभी प्रकार के लोग हों, वह देश भला कैसे गरीब हो सकता है।

भारत को आप भगवान की देन कहे या कुछ और लेकिन कुछ तो कृपा है भगवान की भारत पर जो सब कुछ यहाँ उपलब्ध है किन्तु हम अपने देश से अभी बहुत अनजान हैं या फिर अपने देश के बारे में हम थोड़ा कम जानते हैं लेकिन ईश्वर ने भारत को सभी चीजों से परिपूर्ण कर रखा है। अगर पूरी  दुनियां एक तरफ हो और भारत एक तरफ तब भी हमें कोई कमी नहीं होने वाली है बस जरुरत हैं अपने देश में ही छुपी चीजों की पहचान करने की अपने देश की महानता को पहचानने की। अंग्रेजो ने हमारे देश के बारे में हमें जो भी गलत बताया और पढ़ाया उस से ऊपर उठकर अपने देश को गहराई से देखें तो दुनिआ के सबसे बड़े बड़े वीर योद्धा महा पुरुष भी भारत की ही धरती पर जन्मे हैं।

श्रीराम, श्री कृष्ण, जिन्होने पापी, अत्याचारी, बलात्कारी लोगो का सर्वनाश किया वो भी इसी धरती पर पैदा हुए,

पृथ्वीराज चौहान, सिकंदर को हारने वाला राजा पोरस, चन्द्रगुप्त मौर्या, आचार्य चाणक्य, सम्राट अशोक, विक्रमदित्य, भगत सिंह, चंद्र शेखर आज़ाद, मंगल पांडेय, सुभास चंद्र बॉस और फौजी जसवंत सिंह रावत ( 300 चीनी दुश्मनो से लड़ने वाला अकेला फौजी ), और निस्वार्थ भाव से देश की रक्षा करने वाले जवान भी इसी धरती पर पैदा हुए हैं दोस्तों । मुझे मेरा मेरे देश पर गर्व है और जितना गर्व करू उतना कम है जितने शब्द लिखूं उतने काम हैं कम हैं। आपकी भारत सबसे अमीर देश है आपको अंदाज़ा भी नहीं है पोस्ट  के बारे में क्या राय है कमेंट में जरूर बताएं।

भारत माता की जय। जय हिन्द जय भारत 

Share post, share knowledge

One thought on “भारत सबसे अमीर देश है आपको अंदाज़ा भी नहीं है”

  1. sach me hamra bharat vaakai me mahan hai. bharat me jo-jo khoobiyan aapne ginayi hain usse kai guna jyada khoobiyan hamare desh me hain, bas antar yah hai ki ham un sabke baare me nahi jaante hain.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *