आनंद महिंद्रा- बायोग्राफी

आनंद महिंद्रा- बायोग्राफी

आनंद महिंद्रा- बायोग्राफी

पूरा नाम  आनंद गोपाल महिंद्रा 
जन्म  1 मई, 1955 मुम्बई, भारत
व्यवसाय   महिंद्रा एंड महिंद्रा समूह के उपाध्यक्ष और प्रबंध निदेशक
माता-पिता हरीश महिंद्रा और इंदिरा महिंद्रा
पत्नी अनुराधा महिंद्रा
राष्ट्रीयता   भारतीय 
धर्म  हिन्दू 
आवास 

मुंबई, महाराष्ट्र, भारत

कार्यक्षेत्र वाहन, बैंक एवं टेक्नोलॉजी जगत के प्रमुख उद्योगपति
कुल संपत्ति   11700 करोड़ रुपये
पुत्र/पुत्री   2 बेटियां 
शिक्षा  हार्वर्ड कॉलेज , डिपार्टमेंट ऑफ विज्युल एंड एनवायरॉनमेंटल स्टडीज, हार्वर्ड बिजनेस स्कूल,  बोस्टन, मैसाचुसेट्स से ‘बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन’ में स्नातकोत्तर (एमबीए)

आनंद महिंद्रा –

आनंद महिंद्रा भारत की जानी मानी कंपनी “महिंद्रा एंड महिन्द्रा लिमिटेड” के निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। Mahindra Group भारत  की 10 सबसे बड़ी कंपनियों में से एक है। साल 1945 में भारत के पंजाब राज्य में तीन व्यक्ति जगदीशचंद्र महिंद्रा, कैलाशचंद्र महिंद्रा व और M.G. मोहम्मद ने मिलकर एक कंपनी की नीव राखी थी। जिसे आज लोग महिंद्रा & महिंद्रा या महिंद्रा ग्रुप के नाम से जानते हैं। इस कम्पनी की जब नीव रखी गयी थी तो इसके ठीक 10 साल बाद यानी 1 मई 1955 को महिंद्रा परिवार में एक बच्चे का जन्म हुआ जिसका नाम रखा गया आनंद महिंद्रा।  यही आनंद महिंद्रा आज भारत की शीर्ष कंपनियों में से एक महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन पद की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं। महाराष्ट्र में प्रसिद्ध संपन्न व्यवसाई परिवार में जन्मे आनंद महिंद्रा के पिता का नाम हरीश महिंद्रा और माँ का नाम इंदिरा महिंद्रा था। आनंद ने अपने लगन व मेहनत से अपने पुरे अंपायर को इंडिया में ही नई बल्कि पुरे वर्ल्ड में फैला दिया. इनकी कम्पनी के वहिक्लेस जैसे: महिंद्रा ट्रैक्टर,बोलेरो, एक्सयूवी500 और महिंद्रा स्कॉर्पियो. वित्तीय सेवाओं, पर्यटन, इंफ्रास्ट्रक्चर डेव्हलपमेंट, ट्रेड एवं लॉजिस्टिक्स क्षेत्रों आदि में भी इन्होने अपना अच्छा नाम कर लिया है।

आनंद महिंद्रा वर्तमान में प्रतिष्ठित ‘हार्वर्ड बिजनेस स्कूल’ के एशिया-पैसिफिक एडवाइजरी बोर्ड के सदस्य, हार्वर्ड बिजनेस स्कूल के डीन के सलाहकार समिति के सदस्य, एशिया बिजनेस काउंसिल के सदस्य, राष्ट्रीय खेल विकास कोष (NSDF), भारत सरकार के कार्यकारी परिषद् के सदस्य, एप्लाइड इकोनॉमिक रिसर्च केंद्र की राष्ट्रीय परिषद् और राष्ट्रीय बैंक प्रबंधन संस्थान पुणे के शासी बोर्ड के सदस्य भी हैं।

आनंद महिंद्रा की शिक्षा –

वर्ष 1977 में इन्होने अमेरिका के हावर्ड्स कालेज से स्नातक की उपाधि प्राप्त की, वर्ष 1981 में इन्होंने ‘हार्वर्ड बिजनेस स्कूल’ (एचबीएस), बोस्टन, मैसाचुसेट्स से ‘बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन’ में स्नातकोत्तर (एमबीए) की डिग्री हासिल की। अपनी पढाई पूरी करने के बाद जब आनंद महिंद्रा 1981 में भारत वापस आये तब इन्होने सबसे पहले  ‘महिन्द्रा यूजाइन स्टील कंपनी’ (MUSCO) में एक वित्त निदेशक के कार्यकारी सहायक के रूप दिया ज्वाइन किया।

व्यावसायिक जीवन –

1989 में महिंद्रा एंड महिंद्रा ग्रुप (जिसमे अनेक क्षेत्र की कम्पनियां शामिल थी ) की स्थापना की गयी उसके बाद ये ‘रियल स्टेट डेवलपमेंट और हॉस्पिटैलिटी से सम्बंधित इकाई के अध्यक्ष बने. फिर इन्हे महिंद्रा एंड महिंद्रा ग्रुप का उप-प्रबंध निदेशक का कार्यभार सौंपा गया था। उसके बाद इन्हें पूरी जिम्मेदारी 1997 में मिली जिसमे ये कंपनी में प्रबंध निदेशक का पद मिला।

2003 में ये इस कंपनी के Voice Chairman बनाये गये, आनंद महिंद्रा अपना योगदान सिर्फ इस पद भार को सँभालने में ही नहीं दे रहे थे बल्कि इन्होने कोटक महिंद्रा फाइनेंस लिमिटेड के रूप में भी अपनी दूसरी संस्था का निर्माण किया। वर्ष 2003 में ये कोटक महिंद्रा फाइनेंस लिमिटेड के सह प्रमोटर बने, और फिर बाद में इसे कोटक महिंद्रा बैंक में तब्दील कर दिया गया, आज कोटक महिंद्रा बैंक भारत के निजी क्षेत्र के अग्रिम बैंकों में गिना जाता है, जो आपको ऑनलाइन खता खोलने की सुविधा भी प्रदान करता है,  ये जो कुछ भी इन्होने बनाया ये सब इन्होने अपनी कुशल बुद्धि व मेहनत के दम पे बनाया है।

2002 में आनंद महिंद्रा के ही नेतृत्व में महिंद्रा मोटर्स ने भारतीय मज़ार में Mahindra Scorpio नाम की एक SUV गाड़ी उतारी, जो की महिंद्रा कंपनी की सबसे प्रसिद्ध गाडी बन गयी और सिर्फ भारत ही नहीं पूरी दुनिया में इस गाड़ी को अत्यधिक पसंद किया जाने लगा। और आज तक यह गाड़ी लोगो के दिलों पर राज़ करती है। महिंद्रा मोटर्स की थार नाम की कार को भी अमीर लोगो के बीच अत्यधिक पसंद किया जाता है। इसके अलावा महिंद्रा ग्रुप कृषि उपकरण निर्माण करने वाले निर्माताओं में से एक तथा पूरी दुनिया में ट्रैक्टरो के सबसे बड़े निर्माता है। आज की तरीख में महिंद्रा ग्रुप की वैल्यूएशन $19 billion की विशाल कंपनी है, और भारत की 10 शीर्ष कंपनियों में से एक है।

इन्होने एक अलग बिज़नेस की नींव भी रखी जिसका नाम ‘महिंद्रा सिस्टम एंड ऑटोमोटिव टेक्नोलॉजी’ है जो चीन एवं ब्रिटेन के अधिग्रहण की रणनीतिक पर भी काम किया है।  इतना ही नहीं बल्कि इन्होने सयुंक्त राज्य अमेरिका में तीन असेम्बलिंग संयंत्रों की स्थापना की है।

महिंद्रा & महिंद्रा की कुछ प्रचलित गाड़ियां –

  • महिंद्रा बोलेरो
  • महिंद्रा थार
  • महिंद्रा कमाण्डर
  • महिंद्रा MaXX
  • महिंद्रा स्कॉर्पियो
  • महिंद्रा ज़ायलो
  • महिंद्रा XUV500
  • महिंद्रा एक्स
  • महिंद्रा रेनॉल्ट लोगान
  • Mahindra TUV 300

पुरस्कार और सम्मान  

आनंद महिंद्रा को वर्ष 2004 में फ्रांस के राष्ट्रपति द्वारा विशेष सम्मान ‘ऑर्डर ऑफ मेरिट’ से सम्मानित किया गया था और इन्हें व्यवसाय के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान के लिए ‘राजीव गांधी पुरस्कार’ से भी सम्मानित किया जा चुका है। वर्ष 2005 में इन्हें ‘पर्सन ऑफ द ईयर’ ऑटो मॉनिटर और ‘लीडरशिप अवार्ड’ अमेरिकन इंडिया फाउंडेशन द्वारा कॉर्पोरेट जगत में सामाजिक जिम्मेदारी के प्रति अपनी प्रतिबद्धताओं के लिए ‘महिंद्रा एंड महिंद्रा समूह’ को मिला था। वर्ष 2006 में इन्हें ‘सीएनबीसी एशिया बिजनेस लीडर’ पुरस्कार और ‘लुधियाना मैनेजमेंट एसोसिएशन’ द्वारा ‘वर्ष के उद्यमी पुरस्कार’ से नवाजा गया था। इसी क्रम में वर्ष 2007 में ‘एनडीटीवी प्रॉफिट’ ने इन्हें ‘वर्ष का सबसे प्रेरणादायक कॉर्पोरेट लीडर’ के सम्मान से सम्मानित किया था। इन्हें वर्ष 2008-2009 में बिजनेस लीडर के रूप में ‘इकॉनोमिक टाइम्स पुरस्कार’ भी प्राप्त हुआ था। हाल ही में आनंद को ‘डेली न्यूज एंड एनालिसिस’ द्वारा मुंबई के सबसे प्रभावशाली पुरुषों और महिलाओं में एक के रूप में चयनित किया गया है। इनके ‘फार्म इक्विपमेंट सेक्टर’ को ‘जापान क्वालिटी मेडल’ प्राप्त हुआ है। यह सम्मान प्राप्त करने वाली विश्व की यह एकमात्र ट्रैक्टर कंपनी है. ‘डेमिंग पुरस्कार’ जीतने वाली भी यह विश्व की एकमात्र कंपनी है।

Award List –

Rajiv Gandhi Award for outstanding contribution in the business field

2004
Knight of the Order of Merit’ by the President of the French Republic

2004

Leadership Award – American India Foundation 2005
Business Leader Award for the year award – CNBC Asia 2006
Harvard Business School Alumni Achievement Award 2008
Ernst & Young Entrepreneur of the Year India award 2009
Business India Businessman of the Year award 2007
Business Leader of the Year – The Asian Awards 2011
Global Leadership Award – US-India Business Council  2012
Best Transformational Leader Award – Asian Centre For Corporate Governance & Sustainability 2012
Entrepreneur for the Year – Forbes India Leadership Awards 2013
Sustainable Development Leadership Award – The Energy and Resources Institute (TERI) 2014
Business Today CEO of the Year 2014
‘Social Media Person of the Year’ by the Internet and Mobile Association of India 2016
‘Disruptor Personality of the Year Award’ by Bloomberg TV India 2016
Harvard Medal – Harvard Alumni Association  2014
Chevalier de l’Ordre national la Légion d’Honneur – French Republic 2016
Top 30 CEOs worldwide – Barron’s List 2016
पद्म भूषण- 2020 

अन्य बायोग्राफी –

इसरो चीफ K.Sivan जी का पूरा जीवन परिचय 

गुंजन सक्सेना। Gunjan Saxena (The Kargil Girl)

राजीव दीक्षित जी का जीवन परिचय Rajeev Dikshit 

कल्पना चावला की पूरी जीवनी | Kalpana Chawla Biography In Hindi

इलोन मस्क का जीवन परिचय | Elon musk biography in hindi 

नरेन्द्र सिंह नेगी जी की जीवनी Biography of narendra singh negi 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *