दुनिया के 10 सबसे बड़े हिन्दू मंदिर | 10 Biggest Hindu Temple

दुनिया के 10 सबसे बड़े हिन्दू मंदिर | 10 Biggest Hindu Temple

दुनिया के 10 सबसे बड़े हिन्दू मंदिर | 10 Biggest Hindu Temple –

भगवान में आस्था रखना सभी भौन्तिक चीजो से उपर है हर सनातन धर्मी के मन में ईश्वर के प्रति आस्था भगवान और इंसान के बीच की एक पवित्र डोर है, इसी आस्था पर विश्वभर में अनेक स्थानों पर विशाल हिन्दू मंदिरों की स्थापना की गई । दुनियां में भले आज अनेको अनेक सम्प्रदाय और पंथ (इस्लाम, इसाई, सिख, बोद्ध, जैन ) बन गए हैं। मगर धर्म आज भी सिर्फ एक ही है वह है सत्य सनातन जिसका इतिहास सृष्टि के आरंभ होने से ही है। और सभी संप्रदाय इसी धर्म के से उत्पन हुए हैं। सनातन धर्म में ईश्वर को सर्वब्यापी (omnipresent) माना जाता है, और मंदिरों को ईश्वर के प्रति आस्था का केंद्र माना जाता है आइये जानते हैं दुनिया के 10 सबसे बड़े हिन्दू मंदिर | 10 Biggest Hindu Temple


10 :- एकम्बरेश्वर मंदिर  –

दुनिया के 10 सबसे बड़े हिन्दू मंदिर | 10 Biggest Hindu Temple

एकम्बरेश्वर मंदिर भारत के तमिल नाडू राज्य के कांचीपुरम शहर में स्थित है जो एक शिव मंदिर है कांचीपुरम शहर को मंदिरों का शहर भी कहा जाता है क्योंकि कांचीपुरम में बहुत सारे बड़े बड़े हिन्दू मंदिर हैं जैसे  विशालकाय वरदराज पेरुमल मंदिर, कामाक्षी अम्मा मन्दिर, कुमार कोटम मंदिर, कैलाश नाथ मंदिर इत्यादि। एकम्बरेश्वर मंदिर शहर के उत्तरी भाग में है ऐसा माना जाता है कि इस मंदिर में एक बहुत ही पुराना आम का पेड़ है जो हजारो वर्ष पुराना है, और इस पेड़ की अलग अलग शाखा पर अलग अलग रंग के आम लगते हैं और इनका स्वाद भी अलग अलग ही होता है। इस शिव मंदिर का क्षेत्रफल लगभग 92860 वर्ग मीटर है यह पांच महा शिव मंदिर एवं पंचभूत स्थलों में से एक है। इस मंदिर के भीतर की दीवार को 1008 शिवलिंगों से सजाया गया है।


9 :- राजगोपाल स्वामी मंदिर  –

दुनिया के 10 सबसे बड़े हिन्दू मंदिर | 10 Biggest Hindu Temple

राजगोपाल स्वामी मंदिर मन्नारगुडी तमिल नाडू में स्थित है जो पर्यटकों के बीच दक्षिण के द्वारिका के रूप में प्रचलित है। यह मंदिर भगवान श्रीकृष्ण को समर्पित है इस मंदिर परिसर में 24 श्राइन, 16 टॉवर द्वार, 7 आंगन, 7 हॉल और 9 टैंक स्थित है। इस मंदिर को कुलुथुंगा चोल के द्वारा बनवाया गया था और बाद में चोल वंश के अन्‍य राजाओं के द्वारा इसे और सजाया गया। नायक वंश के द्वारा इस मंदिर का विस्‍तार सबसे ज्‍यादा किया गया है। इस मंदिर के टैंक के हारदीद्रानादी के नाम से जाना जाता है और यह मंदिर 1158 फीट ऊंचा और 837 फीट चौड़ा है। यहां भी जन्माष्टमी के दिन श्रद्धालुओं की भारी भीड़ लगती है।


8 :- अन्नामलाईयर मंदिर  –

दुनिया के 10 सबसे बड़े हिन्दू मंदिर | 10 Biggest Hindu Temple

यह मंदिर भारत के तमिलनाडु राज्य में स्थित है, अन्नामलाईयार मंदिर भगवान शिव का मंदिर है। यह धार्मिक कार्यो में युक्त होने वाली भूमि के क्षेत्रफल के हिसाब से यह दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा मंदिर है। परंतू इसकी बनावत को ध्यान में रखते हुए यह दुनिया अठवा सबसे बड़ा मंदिर है जो 101171 वर्ग मीटर में फैला हुआ है। यह मंदिर अपनी अनोखी शिल्पकारी और इसके चारो और बने हुए पठार के खम्बो के लिए प्रसिद्ध है। इसका पूर्वी मीनार करीब 66 मीटर ऊँचा है।इस मंदिर में देवी पार्वती की ‘अन्नामलाईयर अम्मान’ के रूप में पूजा की जाती है।


7 :- बृहदेश्वर मंदिर –

दुनिया के 10 सबसे बड़े हिन्दू मंदिर | 10 Biggest Hindu Temple

बृहदीश्वर मंदिर तमिल नाडू के तंजावुर नामक स्थान पर स्थित है यह तमिल वास्तुकला में चोलों द्वारा 11 वीं सदी के आरम्भ में बनायीं गई अद्भुत प्रगति का एक प्रमुख नमूना है। यह पूरी तरह से ग्रेनाईट निर्मित है पुरे विश्व में सिर्फ यह एक मात्र मंदिर है जो ग्रेनाईट से बना हुआ है। क्योंकि यह मंदिर चोल महाराजा राजराज प्रथम के राज्‍यकल के दौरान केवल 5 वर्ष की अवधि में (1004 ई. और 1009 ई. के दौरान) निर्मित किया गया था, इसलिए इसको राजराजेश्वर मन्दिर भी कहा जाता है।

यह भी पढ़ें :- 10 सवाल जिनका जवाब विज्ञान के पास भी नही है

राजराज प्रथम भगवान शिव के परम भक्त थे, इसलिए उन्होंने यह मंदिर भगवान शिव को समर्पित किया। बृहदेश्वर मंदिर अपनी भव्यता, वास्‍तुशिल्‍प और केन्द्रीय गुम्बद से लोगों को आकर्षित करता है। इस मंदिर को यूनेस्को ने विश्व धरोहर घोषित किया है।


6 :- थिरुवनेयीकवल मंदिर –

दुनिया के 10 सबसे बड़े हिन्दू मंदिर | 10 Biggest Hindu Temple

 

थिरुवनेयीकवल मंदिर को हम थिरुवनेयीकल मंदिर भी कहते है, भगवान् शिव को समर्पित है थिरुवनेयीकवल मंदिर तिरुचिरापल्ली (त्रिची), तमिलनाडु में स्थित है  यह मंदिर जितना पुराना है उतना ही अनूठा इसका वास्तुशिल्प है। इस प्रसिद्ध शिव मंदिर का निर्माण 1800 वर्ष पूर्व ‘राजा कोसंगनन’ ने करवाया था।  यह मंदिर अपनी अद्भुत कारीगरी और कलात्मकता के लिए जाना जाता है। लगभग 72,843 वर्गमीटर क्षेत्रफल में बने इस मंदिर की अद्भुत कारीगरी और कलात्मकता देखते ही बनती है।


5 :- बलूर मैठ –

दुनिया के 10 सबसे बड़े हिन्दू मंदिर | 10 Biggest Hindu Temple

यह मठ कलकत्ता में हुगली नदी के किनारे स्वामी विवेकानंद द्वारा बनवाया गया था। यह रामकृष्ण मिशन और रामकृष्ण मठ का मुख्यालय है। इस मठ के भवनों की वास्तु में हिन्दू, इसाई तथा इस्लामी तत्वों का सम्मिश्रण है जो धर्मो की एकता का प्रतीक है। इसकी स्थापना 1897 में स्वामी विवेकानन्द ने की थी। 1,60,000 वर्गमीटर क्षेत्रफल में फैले  हुए इस मंदिर में हिन्दू धर्म के लोगो द्वारा माँ आद्याकाली  की भव्य पूजा अर्चना की जाती है 


4 :- थिल्लई नटराज मंदिर –

दुनिया के 10 सबसे बड़े हिन्दू मंदिर | 10 Biggest Hindu Temple

तमिलनाडु के चिदंबरम में स्थित यह शिव मंदिर जिसे ‘चिदंबरम मंदिर’ भी कहा जाता है  यह मंदिर तमिलनाडु के पूर्व में चिदंबरम शहर के मध्य में स्थित है जो भगवान् शिव को समर्पित है | थिल्लई नटराज मंदिर हिन्दुओ का एक प्रसिद्ध तीर्थस्थल है। इसका क्षेत्रफल लगभग 1,60,000 वर्गमीटर है नटराज मंदिर भगवान शिव के प्रमुख मंदिरों में से एक है। यहां बनी शिव के नटराज स्‍वरूप की प्रतिमा का अलौकिक सौंदर्य देखने को मिलता है।

यह भी पढ़ें :- भगवद्गीता के 10 सबसे महत्वपूर्ण श्लोक जो बदल देंगे आपका जीवन

आपको यह जानकर आश्चर्य होगा की थिल्लई नटराज मंदिर की छत 21,600 सोने की टाइल्स से बनाया गया है जो एक इंसान द्वारा एक दिन में ली गयी सांसों की संख्या के बराबर है  मुख्य मंदिर की उत्तर दिशा में  शिवगंगा सरोवर है जो इस  मंदिर की खूबसूरती में चार चाँद लगा देता है


3 :- अक्षरधाम मंदिर –

दुनिया के 10 सबसे बड़े हिन्दू मंदिर | 10 Biggest Hindu Temple

राजधानी दिल्ली में आधुनिक काल में बनाया गया यह अक्षरधाम मंदिर स्वामीनारायण हिन्दुओ का सबसे बड़ा तीसरा मंदिर है। इस मंदिर में अध्यात्म, हिन्दू संस्कृति, वास्तुकला और भारतीय परंपरा का अदभुत मिश्रण है स्वामीनारायण अक्षरधाम जो 10,000 वर्ष पुरानी भारतीय संस्कृति के प्रतीक को बहुत विस्मयकारी, सुंदर, बुद्धिमत्तापूर्ण और सुखद रूप से प्रस्तुत करता है। अक्षरधाम मंदिर परिसर को पूरा बनने में 5 साल का समय लगा जिसे श्री अक्षर पुरुषोत्तम स्वामीनारायण संस्था के प्रमुख स्वामी महाराज के कुशल नेतृत्व में पूरा किया गया।

यह भी पढ़ें :- ये 10 जगह नहीं देखी तो धरती पर देखा ही क्या |Top 10 beautiful place in world

अक्षरधाम में करीब 234 सजाए हुए खंबे हैं और करीब 20,000 साधू और आचार्यों की मूर्तियाँ हैं इसके अंदर 148 असली हाथियों जितनी बड़ी मूर्तियाँ भी हैं यहाँ पर राम-सीता, राधा-कृष्ण, शिव-पार्वती और लक्ष्मी-नारायण इन सबकी भी सजीव मूर्तियाँ स्थापित हैं अक्षरधाम में आने का और घूमने का कोई पैसा नहीं लगता फ्री में आप मंगलवार से रविवार तक कभी भी यहाँ आके घूम सकते हैं सोमवार को यह बंद रहता है 


2 :- श्रीरंगनाथ मंदिर (श्रीरंगम) –

दुनिया के 10 सबसे बड़े हिन्दू मंदिर | 10 Biggest Hindu Temple

यह भारत का सबसे बड़ा हिन्दू मंदिर है, जो तमिलनाडु के त्रिची नामक स्थान पर स्थित है । जो कि भगवान विष्णु को समर्पित है यह दुनिया के सबसे बड़े धार्मिक स्थलों में से एक है । इस विशाल रंगनाथ मंदिर परिसर का क्षेत्रफल लगभग 6,31,000 वर्ग मी (156 एकड़) है और परिधि 4116 मी है। मंदिर के गर्भगृह में प्रतिष्ठापित मुख्य प्रतिमा में भगवान् विष्णु शेषशैय्या (आदिशेष की शैय्या) पर लेटे हुए हैं, उनके इस अद्भुत स्वरूप को ही ‘श्री रंगनाथ’ के नाम से पूजा जाता है।

यह भी पढ़ें :- टाइटैनिक जहाज से बचे 10 लोगों की अनसुनी दास्ताँ

मंदिर के ऊपरी भाग को सोने से सजाया गया है। श्री रंगनाथस्वामी (श्रीरंगम) मंदिर 49 धार्मिक स्थल है जो इतने बड़े है की अपने आप में नगर के समान लगते है इतिहासकारों के मतानुसार, दक्षिण भारत में शासन करने वाले अधिकांश राजवंशों द्वारा इस मंदिर का निर्माण और विस्तार कराया गया। हिन्दू धार्मिक त्योहारों पर यहाँ भक्त सिर्फ देश से ही नहीं बल्कि विदेशो से भी उमड़ उमड़ कर आते हैं 


1 :- अंकोरवाट मंदिर –

दुनिया के 10 सबसे बड़े हिन्दू मंदिर | 10 Biggest Hindu Temple

अंकोरवाट मंदिर विश्व का सबसे विशाल हिन्दू मंदिर है, जो कम्बोडिया में ‘अंकोर’ नामक स्थान पर स्थित है जिसको 12 शताब्दी में खमेर वंश से जुड़े सूर्यवर्मन द्वितीय नामक हिन्दू शासक ने बनवाया था। यह मंदिर भगवान विष्णु को समर्पित है। अंकोरवाट मंदिर को दुनिया का सबसे बड़ा धार्मिक स्थल माना जाता है। इतिहास पर नजर डाली जाए तो करीब 27 शासकों ने कंबोदेश पर राज किया, जिनमें से कुछ शासक हिन्दू और कुछ बौद्ध थे। शायद यही वजह है कि कंबोडिया में हिन्दू और बौद्ध दोनों से ही जुड़ी मूर्तियां मिलती हैं।

यह भी पढ़ें :- दुनिया के 10 सबसे बुद्धिमान व्यक्ति | Top 10 Most Intelligent People

इसकी दीवारें रामायण और महाभारत जैसे विस्तृत और पवित्र धर्मग्रंथों से जुड़ी कहानियां कहती हैं। लेकिन आज इस मंदिर को बौद्ध मंदिर भी माना जाता है लेकिन इसकी बनावट इसकी मूर्तियाँ और आप किसी भी तथ्य को उठाकर देख लें इस मंदिर की रग रग में हिन्दुओ का इतिहास बसा हुआ है । भले ही बाद में  बौद्धों ने इस पर अधिकार किया लेकिन अच्छी बात यह है की बौद्ध शशको ने इस मंदिर में स्थापित हिन्दू मूर्तियों को की देख रेख की और उनको कोई नुकसान नहीं पहुँचाया।

अंकोरवाट मंदिर को दुनिया के आठवें अजूबे के रूप में भी जाना जाता है । इसका मूल शिखर लगभग 64 मीटर ऊँचा है! इसके अतिरिक्त अन्य सभी आठों शिखर 54 मीटर उँचे हैं! मंदिर साढ़े तीन किलोमीटर लम्बी पत्थर की दिवार से घिरा हुआ था, उसके बाहर 30 मीटर खुली भूमि और फिर बाहर 190  मीटर चौडी खाई है।  अंकोरवाट मंदिर की तस्वीर को कम्बोडिया के झंडे पर भी लगाया गया है।

तो कैसा लगा आपको दुनिया के 10 सबसे बड़े हिन्दू मंदिर | 10 Biggest Hindu Temple के बारे में पढ़कर comment में अपनी राय जरुर दें ।

Share post, share knowledge

One thought on “दुनिया के 10 सबसे बड़े हिन्दू मंदिर | 10 Biggest Hindu Temple”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *