बिटकॉइन क्या है पढ़ें पूरी जानकारी | what is Bitcoin in hindi ?

bitcoin in hindi बिटकॉइन क्या है
bitcoin in hindi बिटकॉइन क्या है
bitcoin

बिटकॉइन क्या है || What is Bitcoin 


बिटकॉइन एक मुद्रा है जो Digital Cryptocurrency है मतलब  इस currency को नोट या सिक्के की तरह आप न तो देख सकते हैं और ना ही छू सकते हैं । इसलिए इसको हम virtual currency भी कहते हैं क्योंकि यह रुपये या डॉलर की तरह प्रिंट नही की जाती है और ना ही इस पर किसी बैंक या किसी देश का अधिकार है इसलिए हम इसको virtual currency भी कहते हैं जो डिजिटल स्टोर होती है बिटकॉइन उपयोग हम इन्टरनेट पर चीजो की खरीद बिक्री के लिए पैसो की ही तरह करते हैं । अगर internet एक country होती तो शायद Bitcoin इन्टरनेट की national currency  होती ।

क्योंकि rupees, dollar, Euro, Yen इन सभी currency की कीमत से ये हजारो और कुछ के लाखो  गुना ज्यादा मूल्यवान है आज ( सितम्बर 2017) के अनुसार 1 बिटकॉइन की कीमत 4280 american dollar है । यानी भारतीय पैसो के हिसाब से एक Bitcoin की कीमत 273288 रुपये है ये अलग बात है की यह किसी को दिखाई नहीं देता क्योंकि यह digital currency है यह दुनिया की सबसे पहली decentralized digital currency है जो विशेष रूप से डिजिटल दुनिया के लिए बनाइ गयी है। Bitcoin का स्तेमाल पूरी दुनिया में कभी भी कही भी कोई भी कर सकता है । और इसके बीच में कोई थर्ड पार्टी एजेंसी या कोई बैंक नहीं होता डायरेक्ट जिस आदमी को भेजना है उसके और आपके बीच ही लेन देन होगा और और सबसे बड़ी बात यह है कि इसकी transaction के लिए आपके सिर्फ 2 रुपये कटते हैं जो बिटकॉइन के हिसाब से बहुत ही कम है।

बिटकॉइन किसने और कब बनाया | Who made bitcoin ?


Bitcoin की शुरुवात 3 जनवरी 2009 को  सातोशी नाकामोतो में ने की थी जो की एक web programmer है लेकिन यह बात भी एक रहस्य ही है की सातोशी नकामोतो कौन है यह अभी तक किसी को नहीं पता । क्योंकि इस व्यक्ति ने सातोशी नकामोतो नाम अपने उपनाम के लिए इस्तेमाल किया है धरती पर सबसे महँगी currency बनाने वाले इस व्यक्ति का असली नाम क्या है यह किसी को पता नहीं । हालाँकि अलग अलग समय पर अलग अलग व्यक्ति सातोशी नकामोतो होने का दावा करते रहते हैं लेकिन Bitcoin का असली जनक कौन इसके लिए किसी के पास कोई पुख्ता जानकारी नहीं है।

बिटकॉइन कैसे काम करता है | How bitcoin works ?


दुनिया में अलग अलग तरह की संस्कृतियाँ है अलग अलग तरह की currencies है हर देश की अपनी अलग ताकत है हर देश की अपनी अलग भाषा है अपनी सरकार है लेकिन सभी देशो में एक दुसरे को जोड़कर रखने वाली चीज है वहां की currency ।

जिस तरह देश का एक नागरिक अपनी धनराशी को bank में जमा करवाता है उसी तरह से लाखो करोडो लोग अपनी जितनी भी बचत है वह बैंक में जमा करवाता है और इस तरह से बैंक के पास बहुत रकम इकठा हो जाती है और बैंक उस रकम को किसी बड़े व्यक्ति बिज़नस में को उधर दे देता है या लोन पर दे देता है जिसका वो अच्छा ख़ासा ब्याज वसूलता है आपको आपकी रकम आपके अकाउंट में दिख रही होती है लेकिन असल में वह वहां होती नहीं है उधार लेने वाला व्यक्ति उसी पैसे से सामान खरीदता है और वो पैसा एक बार फिर घूम फिर के दुसरे व्यक्ति के जरिये बैंक में पहुच जाता है यानि एक ने निकाला दुसरे ने फिर जमा किया और इस तरह से पैसो से लेन दें से अर्थ्वावास्था चलती है और इन पैसो पर नियंत्रण होता है हर देश की सरकार का और बैंक का और यदि   कहीं सरकार या बैंक गड़बड़ करते हैं तो हमारा सारा पैसा डूब सकता है।

यह भी पढ़ें – SWIFT Code क्या है और इसे कैसे पता करें ? पूरी जानकारी

और वहीँ दूसरी तरफ बिटकॉइन  इन्टरनेट की दुनिया मे  ऐसी करेंसी हैं जिस पर किसी का नियंत्रण नहीं है किसी का अधिकार नहीं है यह एक digital currency है और एक software है जो इन्टरनेट में payment करने का एक नया तरीका है यह ओपन source software पर आधारित है जिसको कोई भी इंसान उपयोग कर सकता है ।

सामान्य तौर पर जब  हम किसी  को पैसे भेजते हैं तो हमें प्राप्त करता के अकाउंट में में डालना पड़ता है और तब जाकर वह प्राप्त करता के पास पहुचता है यानि हमारे और प्राप्तकरता के बीच में बैंक है जो हमारे इस Transaction के लिए हमसे अच्छी खासी रकम वसूल लेता है वहीँ दूसरी और बिटकॉइन को भेजने और प्राप्त करने में किसी भी bank या third party agency की जरूरत नहीं होती यह सीधे pear-to-pear काम करता है मतलब हम सीधे एक इंसान से दुसरे इंसान को भेज सकते हैं और इसकी इसी खासियत को आज हजारो प्रोग्रामर मजबूत और सुरक्षित बनाने पर लगे हुए हैं ताकि जो भी लेन देन हो सब सुरख्सित हो ।

एक एक आंकडे का होता है हिसाब 


pear to pear प्रणाली में बिटकॉइन आम लोगो में बंटे blockchain में भेजा जाता है जिस तरह बैंक हमारे खाते का हिसाब रखते हैं की कितन minus हुआ और कितना plus उसी तरह bitcoin में भी आपके एक एक पैसे का हिसाब रखा जाता है यानि दुनिया में किसी भी transaction का हिसाब हमेशा blockchain में मौजूद रहता है और   साथ ही साथ इस blockchain पर नज़र रखने वाले और इसको और सुरख्सित बनाने वालों को भी इनाम के तौर पर bitcoin दिए जाते है इसलिए इसमें धोखाधड़ी नहीं हो सकती ।

बिटकॉइन पर नज़र कौन रखता है 


दरअसल बिटकॉइन पर नज़र रखने वाले हजारो प्रोग्रामर हैं जिनको miners कहा जाता है। ये बैंक के क्लर्क की तरह काम करते हैं ये लोग bitcoin  के transaction पर नज़र रखते हैं ताकि इसका गलत उपयोग न हो लेकिन इस प्रक्रिया को पूरा करने के लिए इन miners को एक Mathemeticle  problem solve करनी होती है जो भी miners इस problem को सबसे पहले solve करता है उसको इसके बदले में करीब 12.5 Bitcoin दिए जाते हैं। और इस तरह बिटकॉइन डिजिटल  मार्किट में आते हैं ।

यह भी पढ़ें – डिजिटल सिग्नेचर क्या होता है | Digital Signature in hindi

बिटकॉइन की कीमत हर दिन बढती जा रही है इसलिए बिटकॉइन को खरीदने के लिए लोगो की खूब मारामारी हो रही है क्योंकि यह आज इस साल खरीदा जाये तो अगले साल हमको अभी की रकम का double triple दे सकता है ।

तो कैसी लगी आपको यह पोस्ट जरूर बताएं और को जानकारी छूट गयी हो या कोइ सवाल हो तो कमेंट में बताएं सवाल का जवाब भी दिया जायेगा और पोस्ट में छूटी जानकारी को भी जोड़ा जायेगा ।
और आप इन पोस्ट को भी पढ़ सकते हैं –
Captcha क्या है जानिए हिंदी में
Hacking क्या है हैकिंग की पूरी जानकारी
Kali Linux क्या है जानिए हिंदी में

About kailash

मेरा नाम कैलाश रावत है और मैं hindish.com का एडमिन व लेखक हूँ और इस ब्लॉग पर निरंतर हिन्दी में ,टेक,टिप्स,जीवनियाँ,रहस्य,व अन्य जानकारी वाली पोस्ट share करता रहता हूँ, मेरा मकसद यह है की जैसे बाकि भाषाए इन्टरनेट पर अपनी एक अलग पह्चान बना रही हैं तो फिर हम भी अपनी मात्र भाषा की इन्टरनेट की दुनियां में अलग पहचान बनाये न की hinglish में ।
Share post, share knowledge

10 thoughts on “बिटकॉइन क्या है पढ़ें पूरी जानकारी | what is Bitcoin in hindi ?”

  1. I have invested the Money in Bitcoin,and I am spreading this project,, but people’s have a question,,can u be a gurrantrr,,,so what we should say to them,and during investing the money on this project,,if company stopped their working,or seal,,ya band ho jati had to,,who will be the responsible of over money,,,

  2. bro website me aisa kya hota hai jiske liye use hame kiya jata hai mtlb usme to jo hota hai vo to hame search karane per mil. jata hai n to haker use kyu hake karte hai ……tell me

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *